Labels

Tuesday, August 25, 2015

More than 100 Keyboard Shortcuts must read SHARE IT........ Keyboard Shorcuts (Microsoft Windows)

More than 100 Keyboard Shortcuts must read
SHARE IT........
Keyboard Shorcuts (Microsoft Windows)
1. CTRL+C (Copy)
2. CTRL+X (Cut)
3. CTRL+V (Paste)
4. CTRL+Z (Undo)
5. DELETE (Delete)
6. SHIFT+DELETE (Delete the selected item permanently without placing the item in the Recycle Bin)
7. CTRL while dragging an item (Copy the selected item)
8. CTRL+SHIFT while dragging an item (Create a shortcut to the selected item)
9. F2 key (Rename the selected item)
10. CTRL+RIGHT ARROW (Move the insertion point to the beginning of the next word)
11. CTRL+LEFT ARROW (Move the insertion point to the beginning of the previous word)
12. CTRL+DOWN ARROW (Move the insertion point to the beginning of the next paragraph)
13. CTRL+UP ARROW (Move the insertion point to the beginning of the previous paragraph)
14. CTRL+SHIFT with any of the arrow keys (Highlight a block of text)
SHIFT with any of the arrow keys (Select more than one item in a window or on the desktop, or select text in a document)
15. CTRL+A (Select all)
16. F3 key (Search for a file or a folder)
17. ALT+ENTER (View the properties for the selected item)
18. ALT+F4 (Close the active item, or quit the active program)
19. ALT+ENTER (Display the properties of the selected object)
20. ALT+SPACEBAR (Open the shortcut menu for the active window)
21. CTRL+F4 (Close the active document in programs that enable you to have multiple documents opensimultaneou sly)
22. ALT+TAB (Switch between the open items)
23. ALT+ESC (Cycle through items in the order that they had been opened)
24. F6 key (Cycle through the screen elements in a window or on the desktop)
25. F4 key (Display the Address bar list in My Computer or Windows Explorer)
26. SHIFT+F10 (Display the shortcut menu for the selected item)
27. ALT+SPACEBAR (Display the System menu for the active window)
28. CTRL+ESC (Display the Start menu)
29. ALT+Underlined letter in a menu name (Display the corresponding menu) Underlined letter in a command name on an open menu (Perform the corresponding command)
30. F10 key (Activate the menu bar in the active program)
31. RIGHT ARROW (Open the next menu to the right, or open a submenu)
32. LEFT ARROW (Open the next menu to the left, or close a submenu)
33. F5 key (Update the active window)
34. BACKSPACE (View the folder onelevel up in My Computer or Windows Explorer)
35. ESC (Cancel the current task)
36. SHIFT when you insert a CD-ROMinto the CD-ROM drive (Prevent the CD-ROM from automatically playing)
Dialog Box - Keyboard Shortcuts
1. CTRL+TAB (Move forward through the tabs)
2. CTRL+SHIFT+TAB (Move backward through the tabs)
3. TAB (Move forward through the options)
4. SHIFT+TAB (Move backward through the options)
5. ALT+Underlined letter (Perform the corresponding command or select the corresponding option)
6. ENTER (Perform the command for the active option or button)
7. SPACEBAR (Select or clear the check box if the active option is a check box)
8. Arrow keys (Select a button if the active option is a group of option buttons)
9. F1 key (Display Help)
10. F4 key (Display the items in the active list)
11. BACKSPACE (Open a folder one level up if a folder is selected in the Save As or Open dialog box)
Microsoft Natural Keyboard Shortcuts
1. Windows Logo (Display or hide the Start menu)
2. Windows Logo+BREAK (Display the System Properties dialog box)
3. Windows Logo+D (Display the desktop)
4. Windows Logo+M (Minimize all of the windows)
5. Windows Logo+SHIFT+M (Restorethe minimized windows)
6. Windows Logo+E (Open My Computer)
7. Windows Logo+F (Search for a file or a folder)
8. CTRL+Windows Logo+F (Search for computers)
9. Windows Logo+F1 (Display Windows Help)
10. Windows Logo+ L (Lock the keyboard)
11. Windows Logo+R (Open the Run dialog box)
12. Windows Logo+U (Open Utility Manager)
13. Accessibility Keyboard Shortcuts
14. Right SHIFT for eight seconds (Switch FilterKeys either on or off)
15. Left ALT+left SHIFT+PRINT SCREEN (Switch High Contrast either on or off)
16. Left ALT+left SHIFT+NUM LOCK (Switch the MouseKeys either on or off)
17. SHIFT five times (Switch the StickyKeys either on or off)
18. NUM LOCK for five seconds (Switch the ToggleKeys either on or off)
19. Windows Logo +U (Open Utility Manager)
20. Windows Explorer Keyboard Shortcuts
21. END (Display the bottom of the active window)
22. HOME (Display the top of the active window)
23. NUM LOCK+Asterisk sign (*) (Display all of the subfolders that are under the selected folder)
24. NUM LOCK+Plus sign (+) (Display the contents of the selected folder)
MMC COnsole Windows Shortcut keys
1. SHIFT+F10 (Display the Action shortcut menu for the selected item)
2. F1 key (Open the Help topic, if any, for the selected item)
3. F5 key (Update the content of all console windows)
4. CTRL+F10 (Maximize the active console window)
5. CTRL+F5 (Restore the active console window)
6. ALT+ENTER (Display the Properties dialog box, if any, for theselected item)
7. F2 key (Rename the selected item)
8. CTRL+F4 (Close the active console window. When a console has only one console window, this shortcut closes the console)
Remote Desktop Connection Navigation
1. CTRL+ALT+END (Open the Microsoft Windows NT Security dialog box)
2. ALT+PAGE UP (Switch between programs from left to right)
3. ALT+PAGE DOWN (Switch between programs from right to left)
4. ALT+INSERT (Cycle through the programs in most recently used order)
5. ALT+HOME (Display the Start menu)
6. CTRL+ALT+BREAK (Switch the client computer between a window and a full screen)
7. ALT+DELETE (Display the Windows menu)
8. CTRL+ALT+Minus sign (-) (Place a snapshot of the active window in the client on the Terminal server clipboard and provide the same functionality as pressing PRINT SCREEN on a local computer.)
9. CTRL+ALT+Plus sign (+) (Place asnapshot of the entire client window area on the Terminal server clipboardand provide the same functionality aspressing ALT+PRINT SCREEN on a local computer.)
Microsoft Internet Explorer Keyboard Shortcuts
1. CTRL+B (Open the Organize Favorites dialog box)
2. CTRL+E (Open the Search bar)
3. CTRL+F (Start the Find utility)
4. CTRL+H (Open the History bar)
5. CTRL+I (Open the Favorites bar)
6. CTRL+L (Open the Open dialog box)
7. CTRL+N (Start another instance of the browser with the same Web address)
8. CTRL+O (Open the Open dialog box,the same as CTRL+L)
9. CTRL+P (Open the Print dialog box)
10. CTRL+R (Update the current Web )
SHARE IT WITH YOUR FRIENDS





Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

आप एक कसबे में रहते हैं, मोटरसाइकिल से कही जा रहे थे, एक्सीडेंट हो गया, चोट लग गयी।

आप एक कसबे में रहते हैं, मोटरसाइकिल से कही जा रहे थे, एक्सीडेंट हो गया, चोट लग
गयी।

अस्पताल 2 km दूर है, बगल से एक ऑटो रिक्शा वाला जा रहा है।

अस्पताल 2 km दूर है ऑटो वाला कहता है 2000 रु लूँगा पहले, तब छोडूंगा अस्पताल तक...

आप क्या करेंगे??

मान लीजिये आपने मना कर
दिया दूसरा ऑटो वाला आ गया,

वो बोला चलो मैं 1000 में छोड़ देता हूँ।

पहला ऑटो वाला उस से भिड गया...

साले, मेरी सवारी खराब कर रहा है, रेट बिगाड़ रहा है।

दूसरा ऑटो वाला डर के भाग
गया.. आप क्या करेंगे ??
---------------------------------

चलो इसे छोडिये अब...

ये सिर्फ समझाने के लिये था।
असली मुद्धे पर आते है।
---------------------------------

आपके पिता जी को "हार्ट अटैक" हो गया...

डॉक्टर कहता है Streptokinase इंजेक्शन
ले के आओ...

9000 रु का... इंजेक्शन की असली कीमत 700 - 900 रु के बीच है... पर उसपे MRP 9000 का है।

आप क्या करेंगे??
---------------------------------

आपके बेटे को टाइफाइड हो गया...

डॉक्टर ने लिख दिया कुल 14 Monocef लगेंगे।

होलसेल दाम 25रु है. अस्पताल का केमिस्ट आपको 53 रु में देता है...

आप क्या करेंगे??
---------------------------------

आपकी माँ की किडनी फेल हो गयी है...

हर तीसरे दिन Dialysis होता है...

Dialysis के बाद एक इंजेक्शन लगता है (नाम मुझे मालूम नहीं)
MRP शायद 1800 रु है।

आप सोचते हैं की बाज़ार से होलसेल मार्किट से ले लेता हूँ।

पूरा हिन्दुस्तान आप खोज मारते हैं, कही नहीं मिलता... क्यों?

कम्पनी सिर्फ और सिर्फ डॉक्टर
को सप्लाई देती है।

इंजेक्शन की असली कीमत 500 है पर डॉक्टर अपने
अस्पताल में MRP पे यानि 1800 में देता है...

आप क्या करेंगे ??
---------------------------------

आपके बेटे को इन्फेक्शन हो गया है...

डॉक्टर ने जो Antibiotic लिखी वो 540 रु का एक पत्ता है.

वही salt किसी दूसरी कम्पनी का 150 का है और जेनेरिक 45 रु का...

पर केमिस्ट आपको मना कर देता है... नहीं जेनेरिक हम रखते ही नहीं, दूसरी कम्पनी की देंगे नहीं...

वही देंगे जो डॉक्टर साहब ने लिखी है... यानी 540 वाली?

आप क्या करेंगे??
---------------------------------

बाज़ार में Ultrasound 750 रु में होता है...

चैरिटेबल डिस्पेंसरी 240 रु में
करती है।

750 में डॉक्टर का कमीशन 300 रु है।

MRI में डॉक्टर का कमीशन 2000 से 3000 के बीच है।

डॉक्टर और अस्पतालों की ये लूट, ये नंगा नाच बेधड़क बेखौफ्फ़ देश में चल रहा है।

Pharmaceutical कम्पनियों की lobby इतनी मज़बूत है की उसने देश को सीधे सीधे बंधक बना रखा है।

स्वास्थय मंत्रालय और सरकार एकदम लाचार है।

डॉक्टर्स और दवा कम्पनियां मिली हुई हैं।

दोनों मिल के सरकार को ब्लैकमेल करते हैं...

सरकार पूरी तरह लाचार है? या नकारा? नपुंसक ?
---------------------------------

यक्ष प्रश्न... मीडिया दिन रात रोजा और रोटी दिखाता है,

लाल किताब बेचता है,

समोसे के साथ बाबा जी की हरी चटनी,

सास बहू और साज़िश,

सावधान,

क्राइम रिपोर्ट,

राखी सावंत, Bigboss,

Cricketar की Girlfriend,

बिना ड्राईवर की कार,

गड्ढे में गिरा प्रिंस...

सब दिखाता है...

पर Doctors, Hospitals और Pharmaceutical कम्पनियों की ये लूट क्यों नहीं दिखाता?
---------------------------------

मीडिया नहीं दिखाएगा तो कौन
दिखाएगा??

मेडिकल lobby की दादागिरी कैसे रुकेगी??

इस lobby ने सरकार को लाचार कर रखा है।

media क्यों चुप है?

क्या मीडिया को भी खरीद लिया है फार्म कंपनी ने??

2000 रु मांगने वाले ऑटो वाले को तो आप कालर पकड़ के मारेंगे चार झापड़...

डॉक्टर साहब का क्या करेंगे??
---------------------------------

यदि आपको ये सत्य लगता है तो करदो फ़ॉरवर्ड सबको।
हेलपिंग हैंड्स ग्रुप आपसे निवेदन करता हैं...��जागरूकता लाईये और दूसरों को भी जागरूक बनाने में अपना सहयोग दीजिये। जय हिंद����

धन्यवाद...





Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

मिनटों में खूबसूरत दिखने के आसान नुस्खे त्‍वचा की खूबसूरती को निखारे खास देखभाल से। झुर्रियां त्‍वचा की खूबसूरती को कम करती है इससे बचें।

मिनटों में खूबसूरत दिखने के आसान नुस्खे
त्‍वचा की खूबसूरती को निखारे खास देखभाल से।
झुर्रियां त्‍वचा की खूबसूरती को कम करती है इससे बचें।
तैलीय त्वचा से छुटकारा पाकर त्‍वचा में लाएं निखार।
शहद का इस्‍तेमाल त्‍वचा में लाता है कसावट।
सुंदर दिखना हर किसी की चाहत होती है। इसके लिए जरूरी नहीं है कि आप मंहगे उत्पाद का प्रयोग करें या ब्यूटी पार्लर का रुख करें। चेहरे की खूबसूरती को निखारने के लिए जरूरी है कि आप इसका खास खयाल रखें। जानिए कुछ आसान उपाय जिनसे आपकी खूबसूरती बरकरार रहेगी।
asie nikhaare twachaझुर्रियों करें दूर-
एक चम्मच शहद में कुछ बूंदे नींबू के रस की मिलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरे पर झुर्रियाँ नहीं पड़ती है।
चमक रखे बरकरार -
एक चम्मच गुलाबजल और एक चम्मच दूध के मिश्रण में दो तीन बूंद नींबू का रस मिलाकर इसे चेहरे पर लगाने से त्वचा की कोमलता व चमक बनी रहती है।
स्क्रबिंग के लिए
टमाटर का टुकड़ा लेकर चेहरे पर हल्के हाथों से मसाज करें, चेहरे की सारी गंदगी साफ हो जाएगी। त्वचा को निखारने के लिए स्क्रबिंग बहुत जरूरी है। स्क्रब त्वचा की मृत कोशिकाओं, धूल इत्यादि को हटाकर रोमछिद्रों को बंद होने से रोकता है।
[इसे भी पढ़ें : त्‍वचा की देखभाल कैसे की जाये]
तैलीय त्वचा से पाएं छुटकारा-
एक चम्मच नींबू का रस में एक चम्मच गुलाब जल और पिसा हुआ पुदीना मिलाकर 1 घंटे रखें। फिर चेहरे पर लगाकर 20 मिनट बाद धो लें। इससे चेहरे का चिपचिपापन दूर हो जाएगा।
कैसे पाएं निखार -
त्वचा में निखार लाने के लिए थोड़े-से चोकर में एक चम्मच संतरे का रस, एक चम्मच शहद व गुलाब जल मिलाकर पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को चेहरे और गर्दन पर लगाएं। सूखने पर धो डालें।
शहद से पाएं त्वचा में कसावट -
चेहरे व गर्दन पर शहद लगाएं थोड़ा सा सूखने के बाद अंगुलियों से चेहरे पर मसाज करें। शहद के सूखने के बाद गुनगुने पानी से इसे साफ करें। इससे त्वचा में कसाव आएगा।
[इसे भी पढ़ें : उम्र के साथ सौंदर्य]
डार्क सर्कल से बचें-
आंखों के नीचे झुर्रियां व डार्क सर्कल से बचने के लिए बादाम के तेल में शहद मिलाकर लगाएं और इस हल्के हाथों से मलें और धो लें।
क्लीजिंग के लिए -
चेहरे से मेकअप को हटाने व धूल मिट्टी से बचाने के लिए क्लीजिंग जरूरी है। इसके लिए चावल के आटे में दही मिलाकर पेस्ट बनाएं और इसे चेहरे एवं गर्दन पर अच्छी तरह मलें। इसके बाद चेहरा धो लें।
रुखी त्वचा से बचें-
नारियल के तेल में शहद और संतरे का रस मिला लें और इसे रुखी, फटी हुई त्वचा पर लगाएं। इस मिश्रण के सूखने के बाद गुनगुने पानी से धो लें और हल्के हाथ से पोंछकर नारियल का तेल या कोई और मॉइश्चराइर लगा लें।
[इसे भी पढ़े: दूध से कैसे निखारें सौंदर्य]
यूं हटाएं चेहरे के दाग-धब्बे -
चेहरे पर काले दागों को हटाने के लिए टमाटर के रस में रुई भिगोकर दागों पर लगाएं इससे काले धब्बे साफ हो जाएंगे।
मुंहासों से पाएं छुटकारा -
आलू उबाल कर छिलके छील लें और इसके छिलकों को चेहरे पर रगड़ें, मुंहासे ठीक हो जाएंगे।





Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

आंखों पर चढ़ा मोटा चश्मा भी उतर जाता है, इन साधारण घरेलू नुस्खों से... 1. - पैर के तलवों पर सरसों के तेल की मालिश करके सोएं।

आंखों पर चढ़ा मोटा चश्मा भी उतर जाता है, इन साधारण घरेलू नुस्खों से...
1. - पैर के तलवों पर सरसों के तेल की मालिश करके सोएं। सुबह के समय नंगे पैर हरी घास पर चलें व नियमित रूप से अनुलोम-विलोम प्राणायाम करें, आंखों की कमजोरी दूर हो जाएगी।
2. - एक चने बराबर फिटकरी को सेंककर सौ ग्राम गुलाबजल में डालें और रोजाना रात को सोते समय इस गुलाबजल की चार-पांच बूंद आंखों में डालें। साथ ही, पैर के तलवों पर घी की मालिश करें। इससे चश्में के नंबर कम हो जाते हैं।
3- - आंवले के पानी से आंखें धोने से या गुलाबजल डालने से आंखें स्वस्थ रहती है।
4. - बादाम की गिरी, बड़ी सौंफ व मिश्री तीनों को समान मात्रा में मिला लें। इस मिश्रण को पीसकर पाउडर बना लें। रोज इस पाउडर को एक चम्मच मात्रा में एक गिलास दूध के साथ रात को सोते समय लें।
5. - बेलपत्र का 20 से 50 मि.ली. रस पीने और 3 से 5 बूंद आंखों में काजल की तरह लगाने से रतौंधी रोग में आराम मिलता है।
6- - सोया मिल्क में वसा कम और प्रोटीन अधिक होता है। इसमें फैटी एसिड, विटामिन ई पाया जाता है, जो आंखों को स्वस्थ रखने में मदद करता है।
7 - हरी सब्जियां और सलाद को भोजन में अधिक से अधिक शामिल करें। इनमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट आंखों को स्वस्थ रखते हैं।
8 - ड्रायफ्रूट्स को अपने भोजन में शामिल करने से शरीर को सही मात्रा में ऊर्जा मिलती है। साथ ही, ऐसे पोषक तत्व भी प्राप्त होते हैं, जो आंखों को स्वस्थ बनाते हैं।
9 - - आंखों को स्वस्थ रखने के लिए रोजाना विटामिन ए, बी व सी से भरपूर फलों व अन्य चीजों का सेवन करना चाहिए। गाजर, आंवला, अमरूद, पपीता आदि वे फ्रूट्स हैं, जो आंखों के लिए बहुत फायदेमंद माने जाते हैं।
10 - अपने रोजाना के खाने में लहसुन व प्याज शामिल करें। इनके सेवन से शरीर को सल्फर और पर्याप्त मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मिलते हैं, जो आंखों को स्वस्थ रखने में मददगार होते हैं।
11- - आंखों के रोग जैसे पानी गिरना, आंखें आना, आंखों की दुर्बलता, आदि होने पर रात को आठ बादाम भिगोकर सुबह पीस कर पानी में मिलाकर पी जाएं। इस नुस्खे को नियमित रूप से करने पर आंखों पर लगे चश्मे के नंबर कम हो जाते हैं।
12 - कनपटी पर गाय के घी की हल्के हाथ से रोजाना कुछ देर मसाज करने से आंखों की रोशनी बढ़ती है।
13 - लघुपाठा नाम के पौधे की पत्तियों के
रस को नेत्र रोगों में प्रयोग कराने का विधान भी आयुर्वेद में बताया गया है।
14 - रोजाना दिन में कम से कम दो बार अपनी आंखों पर ठंडे पानी के छींटे जरूर मारें। रात को त्रिफला (हरड़, बहेड़ा व आंवला) को भिगोकर सुबह उस पानी से आंखें धोने से आंखों की बीमारियां दूर होती है व ज्योति बढ़ती है।
15 - एक चम्मच पानी में एक बूंद नींबू का रस डालकर दो-दो बूंद करके आंखों में डालें। इससे आंखें स्वस्थ रहती है।
16- - आंखों पर चोट लगी हो, मिर्च मसाला गिरा हो, कोई कीड़ा गिर गया हो, आंख लाल हो, तो दूध गर्म करके उसमें रूई का फुआ डालकर ठंडा करके आंखों पर लगाएं आराम मिलेगा।
17 - 1 से 2 ग्राम मिश्री और जीरे को 2 से 5 ग्राम गाय के घी के साथ खाने से व लेंडीपीपर को छाछ में घिसकर आंखों में लगाने से रतौंधी में फायदा होता है।
18. - ठंडी ककड़ी या कच्चे आलू की स्लाइस काटकर दस मिनट आंखों पर रखें। पानी अधिक पिएं। पानी कमी से आंखों पर सूजन दिखाई देती हैं। सोने से 3 घंटे पहले भोजन करना चाहिए। ऐसा करने से आंखे स्वस्थ रहती हैं।
19. गुलाब जल का फोहा आंखों पर एक घंटा बांधने से गर्मी से होने वाली परेशानी में तुरंत आराम मिल जाता है
20 - श्याम तुलसी के पत्तों का दो-दो बूंद रस 14 दिन तक आंखों में डालने से रतौंधी रोग में लाभ होता है। इस प्रयोग से आंखों का पीलापन भी मिटता है।
21 - हल्दी की गांठ को तुअर की दाल में उबालकर, छाया में सूखा लें। इस गांठ को पानी में घिसकर सूर्यास्त से पूर्व दिन में दो बार आंख में काजल की तरह लगाने से आंखों की लालिमा दूर होती है व आंखें स्वस्थ रहती हैं।
22. - रात को सोने से पहले अरण्डी का तेल या शहद आंखों में डालने से आंखों की सफेदी बढ़ती है।
23. - नींबू व गुलाबजल को समान मात्रा में मिलाकर एक-एक घण्टे के अंतर से आंखों में डालने से आंखों को ठंडक मिलती है।
24. - केला और गन्ना खाना आंखों के लिए हितकारी है। रोजाना नींबू पानी पीने से भी आंखों की रोशनी बढ़ती है।
25 - - ग्रीन टी का सेवन भी आंखों के लिए अच्छा होता है। एक रिसर्च के अनुसार रोजाना लगभग पांच कप ग्रीन टी पीने से शरीर को पर्याप्त मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट प्राप्त होते हैं, जिससे आंखें स्वस्थ रहती हैं।
26 - दूध व अन्य डेयरी प्रोडक्ट्स का सेवन अधिक मात्रा में करना चाहिए। इनके सेवन से आंखों को सही मात्रा में पोषक तत्व प्राप्त होते हैं।
27 - सूरजमुखी के बीजों का सेवन भी आंखों के लिए फायदेमंद होता है। इसके बीजों में विटामिन सी, विटामिन ई, बीटा केरोटीन व एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। इसीलिए इसके सेवन से आंखों की कमजोरी दूर होती है।





Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

चेहरा चमकाना चाहते हैं तो करें टमाटर का उपयोग 1. टमाटर का रस निकालकर उसमें थोड़ा शहद मिलाकर हल्के हाथों से चेहरे पर मसाज करें। सूखने पर चेहरा धो ले। नियमित रूप से यह नुस्खा अपनाने पर चेहरा चमकने लगेगा।

चेहरा चमकाना चाहते हैं तो करें टमाटर का उपयोग
1. टमाटर का रस निकालकर उसमें थोड़ा शहद मिलाकर हल्के हाथों से चेहरे पर मसाज करें। सूखने पर चेहरा धो ले। नियमित रूप से यह नुस्खा अपनाने पर चेहरा चमकने लगेगा।
2. - सेब को पीस लें और इसमें कुछ मात्रा कच्चे दूध की मिला लें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। जब यह सूख जाए तो इसे धो लें। सप्ताह में कम से कम 4 बार ऐसा करने से काफी फायदा होता है।
3.- पान के एक पत्ते को पीस लें। इसमें एक चम्मच नारियल का तेल मिला लें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। किसी भी हिस्से पर बने दाग, काले निशान या धब्बों पर लगाकर कुछ देर रखें और फिर चेहरा धो लें। ऐसा सप्ताह में कम से कम 2 से 3 बार करें। 3 महीने के भीतर निशान मिट जाएंगे।
4 - एक आलू को बारीक पीस लें। इसमें 2-3 चम्मच कच्चा दूध मिला लें। पेस्ट तैयार हो जाएगा। इस पेस्ट को प्रतिदिन सुबह शाम कुछ देर के लिए काले निशानों पर लगाकर रखें। फिर धो लें, निशान दूर हो जाएंगे।
5 - - रोजाना ग्लिसरीन और नींबू रस की समान मात्रा चेहरे के काले धब्बों पर लगाएं। जबरदस्त फायदा होगा।
6 - हर्बल वैद्यों की जानकारी के अनुसार 1/2 कप पत्ता गोभी का रस तैयार करें। इसमें 1/2 चम्मच दही और 1 चम्मच शहद मिलाकर चेहरे पर लगाएं। जब यह सूख जाए तो गुनगुने पानी से इसे धो लें, ऐसा करने से चेहरे की त्वचा में प्राकृतिक रूप से खिंचाव आता है और यह झुर्रियों को दूर करने में मदद करता है।
7 - - रात सोने जाने से पहले संतरे के 2 चम्मच रस में 2 चम्मच शहद मिला लें। चेहरे पर 20 मिनिट तक लगाए रखें। इसके बाद दूध में डूबोकर चेहरे की सफाई करें। ऐसा रोज करने से बहुत जल्दी सकारात्मक परिणाम मिलते हैं।
8 - एक आलू को बारीक पीस लें। इसमें 2-3 चम्मच कच्चा दूध मिला लें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगाएं। जल्द ही निशान दूर हो जाएंगे।
9 - रोजाना ग्लिसरीन और नींबू रसको समान मात्रा में मिलाकर चेहरे के काले धब्बों पर लगाएं तो जबरदस्त फायदा होगा और जल्द ही गहरे काले निशानों की छुट्टी हो जाएगी।



Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

क्या आप जानते हैं कि अधिकतम शिशुओं की आंखों का रंग जन्म के ठीक पश्चात नीला ही होता है. यह हमें आसानी से ज्ञात नहीं हो पाता है. बच्चों की आंखों का रंग तब अपना असली रंग पकड़ता है जब उसकी आंखें प्रकृति की अल्ट्रा वायलेट किरणों से टकराती हैं.

 क्या आप जानते हैं कि अधिकतम शिशुओं की आंखों का रंग जन्म के ठीक पश्चात नीला ही होता है. यह हमें आसानी से ज्ञात नहीं हो पाता है. बच्चों की आंखों का रंग तब अपना असली रंग पकड़ता है जब उसकी आंखें प्रकृति की अल्ट्रा वायलेट किरणों से टकराती हैं.

- जन्म के समय आप एक शिशु के नन्हें हाथों को जब देखते हैं तो उन पर नाखून आवश्य होते हैं लेकिन निराकार दिशा में। यह नाखून अपना सही आकार लेने में 6 महीनों का समय लेते हैं.

- वैज्ञानिकों का दावा है कि अपने पूरे जीवन काल में एक मनुष्य अपने अंदर इतना थूक जमा कर लेता है कि इसकी मदद से दो स्विमिंग पूल भरे जा सकते हैं.

- आपकी पीठ या यूं कहें कि रीढ़ की हड्डी रोजाना सिकुड़ती है जिसकी बदौलत जब आप नींद से उठते हैं तो उसके बाद यह आपको एक सेंटीमीटर छोटा बना देती है.

- मनुष्य का पेट कभी अपने आप नष्ट नहीं होता क्योंकि वैज्ञानिकों का मानना है कि इसकी कोशिकाओं को बनने में जितनी तेजी लगती है उससे भी अधिक समय इन्हें नष्ट होने में लगता है.

- आपने सुना होगा कि मानव शरीर में अपनी एक ऊर्जा होती है लेकिन क्या यह सुना है कि केवल आधे घंटे में हमारे शरीर में इतनी गर्मी पैदा हो सकती है कि हम उस गर्मी से आधे गेलन पानी को उबाल सकते हैं.

- एक अजीब लेकिन सत्य सा तथ्य, आप खुद को गुदगुदा कर हंसा नहीं सकते हैं. यकीन ना आए तो खुद आजमा कर देख लीजिये.

- अक्सर बैठे-बैठे फालतू में सपने बुनने वाले लोगों को बेकार समझा जाता है लेकिन एक शोध के मुताबिक इन लोगों का आईक्यू लेवल किसी बुद्धिमान इंसान से कई गुना बेहतर होता है.

- दिनभर में जो जानकारी हम प्राप्त करते हैं वो 90 प्रतिशत अपनी आंखों से यानि कि देखकर प्राप्त करते हैं व बाकी की 10 प्रतिशत अन्य शारीरिक अंगों से प्राप्त की जाती हैं.

- इंसान की त्वचा ही उसका सबसे बड़ा अंग है.

- क्या आप जानते हैं कि आपके शरीर की कोशिकाओं को यदि एक कतार में लगाकर हम पूरी दुनिया में घुमाएं तो वो एक विश्व मैप के हिस्से में अटलांटा से लेकर लॉस एंजिल्स तक का सफर तय कर सकती है



Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

हर ट्रेन का एक विशेष नंबर होता है, जो उसकी पहचान होता है। ये डिजिट 0 से लेकर 9 तक होते हैं। पहला डिजिट => 5 डिजिट में पहले डिजिट (0-9) के अलग-अलग मतलब होते हैं।

हर ट्रेन का एक विशेष नंबर होता है, जो उसकी पहचान होता है। ये डिजिट 0 से लेकर 9 तक होते हैं।
पहला डिजिट
=> 5 डिजिट में पहले डिजिट (0-9) के अलग-अलग मतलब होते हैं।
=> 0 का मतलब है कि ये ट्रेन स्पेशल ट्रेन है। (समर स्पेशल, हॉलीडे स्पेशल या अन्य स्पेशल)
1 से 4 तक डिजिट क्या दर्शाती हैं
पहला डिजिट 1 है तो यह दर्शाता है कि ट्रेन लंबी दूरी तक जाती है। साथ ही राजधानी, शताब्दी, जन साधारण, संपर्क क्रांति, गरीब रथ, दूरंतो को भी दर्शाता है।
पहला डिजिट 2 दर्शाता है कि ट्रेन लंबी दूरी की है। 1-2 दोनों ही डिजिट की ट्रेनें एक ही श्रेणी में आती हैं।
पहला डिजिट 3 दर्शाता है कि ट्रेन कोलकाता सब अरबन ट्रेन है।
पहला डिजिट 4 दर्शाता है कि यह नई दिल्ली, चेन्नई, सिकंदराबाद और अन्य मेट्रो सिटी की सब अरबन ट्रेन है।
पहला डिजिट 5 दर्शाता है कि यह सवारी गाड़ी है।
पहला डिजिट 6 दर्शाता है कि ये मेमू ट्रेन है।
पहला डिजिट 7 दर्शाता है कि यह डेमू ट्रेन है।
पहला डिजिट 8 दर्शाता है कि यह आरक्षित ट्रेन है।
पहला डिजिट 9 दर्शाता है कि यह मुंबई की सब अरबन ट्रेन है।
दूसरा और उसके बाद का डिजिट पहले डिजिट के अनुसार ही होता है।
जब किसी ट्रेन के पहले लेटर 0, 1 और 2 से शुरू होते हैं तो बाकी के चार लेटर रेलवे जोन और डिजिवन को दर्शाते हैं। यह 2011 4-डिजिट स्कीम के अनुसार होता है।
0- कोंकण रेलवे
1- सेंट्रल रेलवे, वेस्ट-सेंट्रल रेलवे, नॉर्थ सेंट्रल रेलवे
2- सुपरफास्ट, शताब्दी, जन शताब्दी तो दर्शाता है। इन ट्रेन के अगले डिजिट जोन कोड को दर्शाते हैं।
3- ईस्टर्न रेलवे और ईस्ट सेंट्रल रेलवे
4- नॉर्थ रेलवे, नॉर्थ सेंट्रल रेलवे, नॉर्थ वेस्टर्न रेलवे
5- नेशनल ईस्टर्न रेलवे, नॉर्थ ईस्ट फ्रंटियर रेलवे
6- साउथर्न रेलवे और साउथर्न वेस्टर्न रेलवे
7- साउथर्न सेंट्रल रेलवे और साउथर्न वेस्टर्न रेलवे
8- साउथर्न ईस्टर्न रेलवे और ईस्ट कोस्टल रेलवे
9- वेस्टर्न रेलवे, नार्थ वेस्टर्न रेलवे और वेस्टर्न सेंट्रल रेलवे
इसके अलावा जिस ट्रेन का पहला डिजिट 5,6,7 में से एक होता है उनका दूसरा डिजिट जोन को दर्शाता है और बाकी डिजिट उनके डिविजन कोड को दर्शाते हैं।





Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

केला और दही खाकर करें ब्लडप्रेशर कंट्रोल, ऐसे करें रोगों का बिना दवा इलाज

केला और दही खाकर करें ब्लडप्रेशर कंट्रोल, ऐसे करें रोगों का बिना दवा इलाज
1. दही का सेवन करें - दही का एक छोटा पॉट जमाएं और पूरे दिन में थोड़ा-थोड़ा करके इस पॉट के दही का सेवन करें। यू.एस की एक युनिवर्सिटी के अनुसार ये शरीर के लिए आवश्यक कैल्शियम की मात्रा शरीर को प्रदान करता है। साथ ही, ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल में रखता है।
2. सप्ताह में एक बार करें ये काम - सप्ताह में एक बार वीकली जॉगिंग पर जाएं। सप्ताह में एक बार जॉगिंग पर जाने से लगभग 6 साल आयु बढ़ती है। कोपनहेगन में की गई एक हार्ट कार्डीवेस्कुलर स्टडी केअनुसार 20000 लोगों पर किए गए एक शोध के अनुसार साप्ताहिक जागिंग पर जाने से बहुत सारे सेहतमंद फायदे होते हैं। शरीर में आक्सीजन का स्तर बढ़ता है। किसी भी तरह की फिजिकल एक्टिविटी से शरीर के ब्लड प्रेशर का स्तर नियंत्रित रहता है।
3. मेथी दाने से भी होता है फायदा - मेथी दाने के चूर्ण को रोज सुबह खाली पेट लेकर हाई ब्लड प्रेशर से बचा जा सकता है। खाना खाने के बाद दो कच्चे लहसुन की कलियां लेकर मुनक्का के साथ चबाए। ऐसा करने से हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत नहीं होती। प्याज का रस और शहद बराबर मात्रा में मिलाकर रोज करीब दस ग्राम की मात्रा में लें।
4. टमाटर भी होते हैं फायदेमंद - एक चिकित्सा अनुसंधान में बताया गया है कि लाल टमाटरों का उपयोग हाई ब्लड प्रेशर और ख़ून में पाए जाने वाले कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में सहायक होता है।इसीलिए हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों को रोजाना खाने के साथ सलाद के रूप में टमाटर जरूर खाना चाहिए। टमाटर में विटामिन सी, थोड़ा सा फैट और खूब सारा आयरन होता है।
5. खसखस का ऐसे करें उपयोग - खसखस का सेवन भी ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए बहुत लाभदायक होता है। तरबूज के बीज की गिरि और खसखस दोनों को बराबर मात्रा में मिलाकर पीस लें। रोज सुबह-शाम एक चम्मच खाली पेट पानी के साथ लें। यह उपाय करीब एक महीने तक नियमित करें।
6 नमक का संतुलित सेवन करें - नमक का उपयोग भोजन में सभी को बहुत संतुलित मात्रा में करना चाहिए। दरअसल, हम सिर्फ नमक अपने अनुसार ही भोजन में नहीं डालते बल्कि कुछ नमक प्राकृतिक रूप से कुछ सब्जियों में भी होता है। इसीलिए लो ब्लड प्रेशर व हाई ब्लड प्रेशर दोनों के पेशेन्ट्स को संतुलित मात्रा में नमक का सेवन करना चाहिए।
7. तुलसी का रस लें- रोजाना 21 तुलसी के पत्तो या तुलसी का रस एक या दो चम्मच पानी में मिलाकर खाली पेट सेवन करें।इसके एक घंटे बाद तक कुछ भी न खाएं। ठंडे पानी से नहाने के बजाए गुनगुने पानी से नहाए। साथ ही, अधिक नमक व अधिक चीनी का इस्तेमाल हानिकारक है।
8. केला खाना भी होता है लाभदायक - पोटेशियम की अधिकता वाले फल का सेवन ब्लड प्रेशर पेशेंट्स के लिए बहुत अधिक लाभदायक होते हैं। ब्रिटिश मेडिकल जर्नल के एक नए शोध के अनुसार पोटेशियम वह महत्वपूर्ण तत्व है जो लो-ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है।
9. चुकंदर वरदान है - हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखना है तो आपको वैज्ञानिकों की सलाह मानकर रोजाना एक गिलास चुकंदर का जूस पीना चाहिए।रीडिंग यूनिवर्सिटी में एक अध्ययन में पाया गया कि सब्जियों के जूस की एक छोटी सी खुराक ब्लड प्रेशर नियंत्रित करने में मददगार हो सकती है। वैज्ञानिकों ने पाया कि सब्जियों का 100 ग्राम जूस भी कम से कम चार घंटे के लिए ब्लड प्रेशर कम कर सकता है।
10 किशमिश को खाएं इस तरीके से - 32 किशमिश लेकर एक चीनी के बाउल में पानी में डालकर रात भर भिगोएं। सुबह उठकर भूखे पेट एक-एक किशमिश को खूब चबा-चबा कर खाएं,पूरे फायदे के लिए हर किशमिश को बत्तीस बार चबाकर खाएं। इस प्रयोग को नियमित बत्तीस दिन करने से लो ब्लडप्रेशर की शिकायत कभी नहीं होगी




Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

बालों के असमय सफेद होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे प्रदूषण , हानिकारक कैमिकल्स का प्रयोग करने से भी बालों

बालों के असमय सफेद होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे प्रदूषण , हानिकारक कैमिकल्स का प्रयोग करने से भी बालों को नुक्सान पहुंचता हैं और तनाव के कारण भी बालों सफेद हो जाते हैं । बाल हमारी खूबसूरती को ओर बढ़ाने में मदद करते हैं इसलिए इनकी देखभाल अच्छे ढंग से करनी चाहिए और बालों को असमय सफेद होने से बचाने के लिए इन घरेलु उपायों को अपनाना चाहिए ।

- अदरक का पेस्ट : अदरक का पेस्ट तैयार करके उसमें थोड़ा सा दूध मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बालों में लगाएं और दस मिन्ट के बाद सिर धो लें । सफेद हो रहे बालों को काला करने में मदद करता हैं ।

- प्याज के पेस्ट का करें इस्तेमाल : प्याज का पेस्ट तैयार करें इसको बालों में लगाने से बाल तो काले होंगे और साथ ही बालों की समस्याओं से भी राहत पाई जा सकती हैं ।

- नारियल तेल या देसी घी : सफेद हो रहे बालों को फिर से काला करने के लिए नारियल तेल में नींबू के रस की कुछ बूंदे मिलाकर बालों पर लगाने के बाद दस मिन्ट तक बालों को धो लें और बालों की मालिश देसी घी से करने से सफेद बाल काले होने शुरु हो जाते हैं ।

- दूध : गाय का कच्चा दूध बालों में लगाने से बाल काले होने शुरु हो जाते हैं । बालों में दूध लगाने के बाद इसे धो लें ।

- नींबू और आंवला : आंवला सफेद बालों को काला करने में मदद करता हैं ,इसलिए आंवले का पेस्ट तैयार करके उसमें नींबू की कुछ बूंदे मिलाकर लगाने से बाल काले होने शुरु हो जाते हैं ।

- हिना और दही : हिना में दही को मिलाकर बालों में लगाने से बालों का रंग बदलने लगता हैं ।


Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

चमकौर का युद्ध- जहां 10 लाख मुग़ल सैनिकों पर भारी पड़े थे 40 सिक्ख


चमकौर का युद्ध- जहां 10 लाख मुग़ल सैनिकों पर भारी पड़े थे 40 सिक्ख

22 दिसंबर सन्‌ 1704  को सिरसा नदी के किनारे चमकौर नामक जगह पर सिक्खों और मुग़लों के बीच एक ऐतिहासिक युद्ध लड़ा गया जो इतिहास में "चमकौर का युद्ध" नाम से प्रसिद्ध है। इस युद्ध में सिक्खों के दसवें गुरु गोविंद सिंह जी के नेतृत्व में 40 सिक्खों का सामना वजीर खान के नेतृत्व वाले 10 लाख मुग़ल सैनिकों से हुआ था।  वजीर खान किसी भी सूरत में गुरु गोविंद सिंह जी को ज़िंदा या मुर्दा पकड़ना चाहता था क्योंकि औरंगजेब की लाख कोशिशों के बावजूद गुरु गोविंद सिंह मुग़लों की अधीनता स्वीकार नहीं कर रहे थे। लेकिन गुरु गोविंद सिंह के दो बेटों सहित 40 सिक्खों ने गुरूजी के आशीर्वाद और अपनी वीरता से वजीर खान को अपने मंसूबो में कामयाब नहीं होने दिया और 10 लाख मुग़ल सैनिक भी गुरु गोविंद सिंह जी को नहीं पकड़ पाए। यह युद्ध इतिहास में सिक्खों की वीरता और उनकी अपने धर्म के प्रति आस्था के लिए जाना जाता है । गुरु गोविंद सिंह ने इस युद्ध का वर्णन "जफरनामा" में करते हुए लिखा है-  
" चिड़ियों से मै बाज  लडाऊ  गीदड़ों  को  मैं  शेर  बनाऊ.
सवा लाख से एक लडाऊ तभी गोबिंद सिंह नाम कहउँ,"

आइए याद करते अपने भारत के गौरवशाली इतिहास को और जानते है "चमकौर युद्ध" के पुरे घटनाक्रम को।



मई सन्‌ 1704  की आनंदपुर की आखिरी लड़ाई में कई मुग़ल शासकों की सयुक्त फौज ने आनंदपुर साहिब को 6 महीने तक घेरे रखा। उनका सोचना था की जब आनंदपुर साहिब में राशन-पानी खत्म हो जाएगा तब गुरु जी स्वयं मुगलों की अधीनता स्वीकार कर लेंगे। पर ये मुग़लों की नासमझी थी, जब आनंदपुर साहिब में राशन-पानी खत्म हुआ तो एक रात  गुरु गोविंद सिंह जी आनंदपुर साहिब में उपस्तिथ अपने सभी साथियों को लेकर वहां से रवाना हो गए।  पर कुछ ही देर बाद मुगलों को पता चल गया की गुरु जी यहां से प्रस्थान कर गए है तो वो उनका पीछा करने लगे।  उधर गुरु गोविंद सिंह जी अपने सभी साथियों के साथ सरसा नदी की और बढे जा रहे थे।

जिस समय सिक्खों का काफिला इस बरसाती नदी के किनारे पहुँचा तो इसमें भयँकर बाढ़ आई हुई थी और पानी जोरों पर था। इस समय सिक्ख भारी कठिनाई में घिर गए। उनके पिछली तरफ शत्रु दल मारो-मार करता आ रहा था और सामने सरसा नदी फुँकारा मार रही थी, निर्णय तुरन्त लेना था। अतः श्री गुरू गोबिन्द सिंह जी ने कहा कि कुछ सैनिक यहीं शत्रु को युद्ध में उलझा कर रखों और जो सरसा पार करने की क्षमता रखते हैं वे अपने घोड़े सरसा के बहाव के साथ नदी पार करने का प्रयत्न करें।

ऐसा ही किया गया। भाई उदय सिंह तथा जीवन सिंह अपने अपने जत्थे लेकर शत्रु के साथ भिड़ गये। इतने में गुरूदेव जी सरसा नदी पार करने में सफल हो गए। किन्तु सैकड़ों सिक्ख सरसा नदी पार करते हुए मौत का शिकार हो गए क्योंकि पानी का वेग बहुत तीखा था। कई तो पानी के बहाव में बहते हुए कई कोस दूर बह गए। जाड़े ऋतु की वर्षा, नदी का बर्फीला ठँडा पानी, इन बातों ने गुरूदेव जी के सैनिकों के शरीरों को सुन्न कर दिया। इसी कारण शत्रु सेना ने सरसा नदी पार करने का साहस नहीं किया।

सरसा नदी पार करने के पश्चात 40 सिक्ख दो बड़े साहिबजादे अजीत सिंह तथा जुझार सिंह के अतिरिक्त गुरूदेव जी स्वयँ कुल मिलाकर 43 व्यक्तियों की गिनती हुईं। नदी के इस पार भाई उदय सिंह मुगलों के अनेकों हमलों को पछाड़ते रहे ओर वे तब तक वीरता से लड़ते रहे जब तक उनके पास एक भी जीवित सैनिक था और अन्ततः वे युद्ध भूमि में गुरू आज्ञा निभाते और कर्त्तव्य पालन करते हुए वीरगति पा गये।

इस भयँकर उथल-पुथल में गुरूदेव जी का परिवार उनसे बिछुड़ गया। भाई मनी सिंह जी के जत्थे में माता साहिब कौर जी व माता सुन्दरी कौर जी और दो टहल सेवा करने वाली दासियाँ थी। दो सिक्ख भाई जवाहर सिंह तथा धन्ना सिंह जो दिल्ली के निवासी थे, यह लोग सरसा नदी पार कर पाए, यह सब हरिद्वार से होकर दिल्ली पहुँचे। जहाँ भाई जवाहर सिंह इनको अपने घर ले गया। दूसरे जत्थे में माता गुजरी जी छोटे साहबज़ादे जोरावर सिंह और फतेह सिंह तथा गँगा राम ब्राह्मण ही थे, जो गुरू घर का रसोईया था। इसका गाँव खेहेड़ी यहाँ से लगभग 15 कोस की दूरी पर मौरिंडा कस्बे के निकट था। गँगा राम माता गुजरी जी व साहिबज़ादों को अपने गाँव ले गया।

गुरूदेव जी अपने चालीस सिक्खों के साथ आगे बढ़ते हुए दोपहर तक चमकौर नामक क्षेत्र के बाहर एक बगीचे में पहुँचे। यहाँ के स्थानीय लोगों ने गुरूदेव जी का हार्दिक स्वागत किया और प्रत्येक प्रकार की सहायता की। यहीं एक किलानुमा कच्ची हवेली थी जो सामरिक दृष्टि से बहुत महत्त्वपूर्ण थी क्योंकि इसको एक ऊँचे टीले पर बनाया गया था। जिसके चारों ओर खुला समतल मैदान था। हवेली के स्वामी बुधीचन्द ने गुरूदेव जी से आग्रह किया कि आप इस हवेली में विश्राम करें।

गुरूदेव जी ने आगे जाना उचित नहीं समझा। अतः चालीस सिक्खों को छोटी छोटी टुकड़ियों में बाँट कर उनमें बचा खुचा असला बाँट दिया और सभी सिक्खों को मुकाबले के लिए मोर्चो पर तैनात कर दिया। अब सभी को मालूम था कि मृत्यु निश्चित है परन्तु खालसा सैन्य का सिद्धान्त था कि शत्रु के समक्ष हथियार नहीं डालने केवल वीरगति प्राप्त करनी है।

अतः अपने प्राणों की आहुति देने के लिए सभी सिक्ख तत्पर हो गये। गरूदेव अपने चालीस शिष्यों की ताकत से असँख्य मुगल सेना से लड़ने की योजना बनाने लगे। गुरूदेव जी ने स्वयँ कच्ची गढ़ी (हवेली) के ऊपर अट्टालिका में मोर्चा सम्भाला। अन्य सिक्खों ने भी अपने अपने मोर्चे बनाए और मुगल सेना की राह देखने लगे।

उधर जैसे ही बरसाती नाला सरसा के पानी का बहाव कम हुआ। मुग़ल सेना टिड्डी दल की तरह उसे पार करके गुरूदेव जी का पीछा करती हुई चमकौर के मैदान में पहुँची। देखते ही देखते उसने गुरूदेव जी की कच्ची गढ़ी को घेर लिया। मुग़ल सेनापतियों को गाँव वालों से पता चल गया था कि गुरूदेव जी के पास केवल चालीस ही सैनिक हैं। अतः वे यहाँ गुरूदेव जी को बन्दी बनाने के स्वप्न देखने लगे। सरहिन्द के नवाब वजीर ख़ान ने भोर होते ही मुनादी करवा दी कि यदि गुरूदेव जी अपने आपको साथियों सहित मुग़ल प्रशासन के हवाले करें तो उनकी जान बख्शी जा सकती है। इस मुनादी के उत्तर में गुरूदेव जी ने मुग़ल सेनाओं पर तीरों की बौछार कर दी।

इस समय मुकाबला चालीस सिक्खों का हज़ारों असँख्य (लगभग 10 लाख) की गिनती में मुग़ल सैन्यबल के साथ था। इस पर गुरूदेव जी ने भी तो एक-एक सिक्ख को सवा-सवा लाख के साथ लड़ाने की सौगन्ध खाई हुई थी। अब इस सौगन्ध को भी विश्व के समक्ष क्रियान्वित करके प्रदर्शन करने का शुभ अवसर आ गया था।

22 दिसम्बर सन 1704 को सँसार का अनोखा युद्ध प्रारम्भ हो गया। आकाश में घनघोर बादल थे और धीमी धीमी बूँदाबाँदी हो रही थी। वर्ष का सबसे छोटा दिन होने के कारण सूर्य भी बहुत देर से उदय हुआ था, कड़ाके की शीत लहर चल रही थी किन्तु गर्मजोशी थी तो कच्ची हवेली में आश्रय लिए बैठे गुरूदेव जी के योद्धाओं के हृदय में।

कच्ची गढ़ी पर आक्रमण हुआ। भीतर से तीरों और गोलियों की बौछार हुई। अनेक मुग़ल सैनिक हताहत हुए। दोबारा सशक्त धावे का भी यही हाल हुआ। मुग़ल सेनापतियों को अविश्वास होने लगा था कि कोई चालीस सैनिकों की सहायता से इतना सबल भी बन सकता है। सिक्ख सैनिक लाखों की सेना में घिरे निर्भय भाव से लड़ने-मरने का खेल, खेल रहे थे। उनके पास जब गोला बारूद और बाण समाप्त हो गए किन्तु मुग़ल सैनिकों की गढ़ी के समीप भी जाने की हिम्मत नहीं हुई तो उन्होंने तलवार और भाले का युद्ध लड़ने के लिए मैदान में निकलना आवश्यक समझा।

सर्वप्रथम भाई हिम्मत सिंह जी को गुरूदेव जी ने आदेश दिया कि वह अपने साथियों सहित पाँच का जत्था लेकर रणक्षेत्र में जाकर शत्रु से जूझे। तभी मुग़ल जरनैल नाहर ख़ान ने सीढ़ी लगाकर गढ़ी पर चढ़ने का प्रयास किया किन्तु गुरूदेव जी ने उसको वहीं बाण से भेद कर चित्त कर दिया। एक और जरनैल ख्वाजा महमूद अली ने जब साथियों को मरते हुए देखा तो वह दीवार की ओट में भाग गया। गुरूदेव जी ने उसकी इस बुजदिली के कारण उसे अपनी रचना में मरदूद करके लिखा है।

सरहिन्द के नवाब ने सेनाओं को एक बार इक्ट्ठे होकर कच्ची गढ़ी पर पूर्ण वेग से आक्रमण करने का आदेश दिया। किन्तु गुरूदेव जी ऊँचे टीले की हवेली में होने के कारण सामरिक दृष्टि से अच्छी स्थिति में थे। अतः उन्होंने यह आक्रमण भी विफल कर दिया और सिँघों के बाणों की वर्षा से सैकड़ों मुग़ल सिपाहियों को सदा की नींद सुला दिया।

सिक्खों के जत्थे ने गढ़ी से बाहर आकर बढ़ रही मुग़ल सेना को करारे हाथ दिखलाये। गढ़ी की ऊपर की अट्टालिका (अटारी) से गुरूदेव जी स्वयँ अपने योद्धाओं की सहायता शत्रुओं पर बाण चलाकर कर रहे थे। घड़ी भर खूब लोहे पर लोहा बजा। सैकड़ों सैनिक मैदान में ढेर हो गए। अन्ततः पाँचों सिक्ख भी शहीद हो गये।

फिर गुरूदेव जी ने पाँच सिक्खों का दूसरा जत्था गढ़ी से बाहर रणक्षेत्र में भेजा। इस जत्थे ने भी आगे बढ़ते हुए शत्रुओं के छक्के छुड़ाए और उनको पीछे धकेल दिया और शत्रुओं का भारी जानी नुक्सान करते हुए स्वयँ भी शहीद हो गए। इस प्रकार गुरूदेव जी ने रणनीति बनाई और पाँच पाँच के जत्थे बारी बारी रणक्षेत्र में भेजने लगे। जब पाँचवा जत्था शहीद हो गया तो दोपहर का समय हो गया था।

सरहिन्द के नवाब वज़ीर ख़ान की हिदायतों का पालन करते हुए जरनैल हदायत ख़ान, इसमाईल खान, फुलाद खान, सुलतान खान, असमाल खान, जहान खान, खलील ख़ान और भूरे ख़ान एक बारगी सेनाओं को लेकर गढ़ी की ओर बढ़े। सब को पता था कि इतना बड़ा हमला रोक पाना बहुत मुश्किल है। इसलिए अन्दर बाकी बचे सिक्खों ने गुरूदेव जी के सम्मुख प्रार्थना की कि वह साहिबजादों सहित युद्ध क्षेत्र से कहीं ओर निकल जाएँ।

यह सुनकर गुरूदेव जी ने सिक्खों से कहा: ‘तुम कौन से साहिबजादों (बेटों) की बात करते हो, तुम सभी मेरे ही साहबजादे हो’ गुरूदेव जी का यह उत्तर सुनकर सभी सिक्ख आश्चर्य में पड़ गये। गुरूदेव जी के बड़े सुपुत्र अजीत सिंह पिता जी के पास जाकर अपनी युद्धकला के प्रदर्शन की अनुमति माँगने लगे। गुरूदेव जी ने सहर्ष उन्हें आशीष दी और अपना कर्त्तव्य पूर्ण करने को प्रेरित किया।

साहिबजादा अजीत सिंह के मन में कुछ कर गुजरने के वलवले थे, युद्धकला में निपुणता थी। बस फिर क्या था वह अपने चार अन्य सिक्खों को लेकर गढ़ी से बाहर आए और मुगलों की सेना पर ऐसे टूट पड़े जैसे शार्दूल मृग-शावकों पर टूटता है। अजीत सिंघ जिधर बढ़ जाते, उधर सामने पड़ने वाले सैनिक गिरते, कटते या भाग जाते थे। पाँच सिंहों के जत्थे ने सैंकड़ों मुगलों को काल का ग्रास बना दिया।

अजीत सिंह ने अविस्मरणीय वीरता का प्रदर्शन किया, किन्तु एक एक ने यदि हजार हजार भी मारे हों तो सैनिकों के सागर में से चिड़िया की चोंच भर नीर ले जाने से क्या कमी आ सकती थी। साहिबजादा अजीत सिंह को, छोटे भाई साहिबज़ादा जुझार सिंह ने जब शहीद होते देखा तो उसने भी गुरूदेव जी से रणक्षेत्र में जाने की आज्ञा माँगी। गुरूदेव जी ने उसकी पीठ थपथपाई और अपने किशोर पुत्र को रणक्षेत्र में चार अन्य सेवकों के साथ भेजा।

गुरूदेव जी जुझार सिंघ को रणक्षेत्र में जूझते हुए, को देखकर प्रसन्न होने लगे और उसके युद्ध के कौशल देखकर जयकार के ऊँचे स्वर में नारे बुलन्द करने लगे– "जो बोले, सो निहाल, सत् श्री अकाल"। जुझार सिंह शत्रु सेना के बीच घिर गये किन्तु उन्होंने वीरता के जौहर दिखलाते हुए वीरगति पाई। इन दोनों योद्धाओं की आयु क्रमश 18 वर्ष तथा 14 वर्ष की थी। वर्षा अथवा बादलों के कारण साँझ हो गई, वर्ष का सबसे छोटा दिन था, कड़ाके की सर्दी पड़ रही थी, अन्धेरा होते ही युद्ध रूक गया।

गुरू साहिब ने दोनों साहिबजादों को शहीद होते देखकर अकालपुरूख (ईश्वर) के समक्ष धन्यवाद, शुकराने की प्रार्थना की और कहा:

‘तेरा तुझ को सौंपते, क्या लागे मेरा’।

शत्रु अपने घायल अथवा मृत सैनिकों के शवों को उठाने के चक्रव्यूह में फँस गया, चारों ओर अन्धेरा छा गया। इस समय गुरूदेव जी के पास सात सिक्ख सैनिक बच रहे थे और वह स्वयँ कुल मिलाकर आठ की गिनती पूरी होती थी। मुग़ल सेनाएँ पीछे हटकर आराम करने लगी। उन्हें अभी सन्देह बना हुआ था कि गढ़ी के भीतर पर्याप्त सँख्या में सैनिक मौजूद हैं।

रहिरास के पाठ का समय हो गया था अतः सभी सिक्खों ने गुरूदेव जी के साथ मिलकर पाठ किया तत्पश्चात् गुरूदेव जी ने सिक्खों को चढ़दीकला में रहकर जूझते हुए शहीद होने के लिए प्रोत्साहित किया। सभी ने शीश झुकाकर आदेश का पालन करते हुए प्राणों की आहुति देने की शपथ ली किन्तु उन्होंने गुरूदेव जी के चरणों में प्रार्थना की कि यदि आप समय की नज़ाकत को मद्देनज़र रखते हुए यह कच्ची गढ़ीनुमा हवेली त्यागकर आप कहीं और चले जाएँ तो हम बाजी जीत सकते हैं क्योंकि हम मर गए तो कुछ नहीं बिगड़ेगा परन्तु आपकी शहीदी के बाद पँथ का क्या होगा ?

इस प्रकार तो श्री गुरू नानक देव जी का लक्ष्य सम्पूर्ण नहीं हो पायेगा। यदि आप जीवित रहे तो हमारे जैसे हज़ारों लाखों की गिनती में सिक्ख आपकी शरण में एकत्र होकर फिर से आपके नेतृत्त्व में सँघर्ष प्रारम्भ कर देंगे।

गुरूदेव जी तो दूसरों को उपदेश देते थे: जब आव की आउध निदान बनै, अति ही रण में तब जूझ मरौ। फिर भला युद्ध से वह स्वयँ कैसे मुँह मोड़ सकते थे ? गुरूदेव जी ने सिंघों को उत्तर दिया– मेरा जीवन मेरे प्यारे सिक्खों के जीवन से मूल्यवान नहीं, यह कैसे सम्भव हो सकता है कि मैं तुम्हें रणभूमि में छोड़कर अकेला निकल जाऊँ। मैं रणक्षेत्र को पीठ नहीं दिखा सकता, अब तो वह स्वयँ दिन चढ़ते ही सबसे पहले अपना जत्था लेकर युद्धभूमि में उतरेंगे। गुरूदेव जी के इस निर्णय से सिक्ख बहुत चिन्तित हुए। वे चाहते थे कि गुरूदेव जी किसी भी विधि से यहाँ से बचकर निकल जाएँ ताकि लोगों को भारी सँख्या में सिंघ सजाकर पुनः सँगठित होकर, मुगलों के साथ दो दो हाथ करें।

सिक्ख भी यह मन बनाए बैठे थे कि सतगुरू जी को किसी भी दशा में शहीद नहीं होने देना। वे जानते थे कि गुरूदेव जी द्वारा दी गई शहादत इस समय पँथ के लिए बहुत हानिकारक सिद्ध होगी। अतः भाई दया सिंह जी ने एक युक्ति सोची और अपना अन्तिम हथियार आजमाया। उन्होंने इस युक्ति के अन्तर्गत सभी सिंहों को विश्वास में लिया और उनको साथ लेकर पुनः गुरूदेव जी के पास आये।

और कहने लगे: गुरू जी, अब गुरू खालसा, पाँच प्यारे, परमेश्वर रूप होकर, आपको आदेश देते हैं कि यह कच्ची गढ़ी आप तुरन्त त्याग दें और कहीं सुरक्षित स्थान पर चले जाएं क्योंकि इसी नीति में पँथ खालसे का भला है।

गुरूदेव जी ने पाँच प्यारों का आदेश सुनते ही शीश झुका दिया और कहा: मैं अब कोई प्रतिरोध नहीं कर सकता क्योंकि मुझे अपने गुरू की आज्ञा का पालन करना ही है।

गुरूदेव जी ने कच्ची गढ़ी त्यागने की योजना बनाई। दो जवानों को साथ चलने को कहा। शेष पाँचों को अलग अलग मोर्चो पर नियुक्त कर दिया। भाई जीवन सिंघ, जिसका डील-डौल, कद-बुत तथा रूपरेखा गुरूदेव जी के साथ मिलती थी, उसे अपना मुकुट, ताज पहनाकर अपने स्थान अट्टालिका पर बैठा दिया कि शत्रु भ्रम में पड़ा रहे कि गुरू गोबिन्द सिंघ स्वयँ हवेली में हैं, किन्तु उन्होंने निर्णय लिया कि यहाँ से प्रस्थान करते समय हम शत्रुओं को ललकारेगें क्योंकि चुपचाप, शान्त निकल जाना कायरता और कमजोरी का चिन्ह माना जाएगा और उन्होंने ऐसा ही किया।

देर रात गुरूदेव जी अपने दोनों साथियों दया सिंह तथा मानसिंह सहित गढ़ी से बाहर निकले, निकलने से पहले उनको समझा दिया कि हमे मालवा क्षेत्र की ओर जाना है और कुछ विशेष तारों की सीध में चलना है। जिससे बिछुड़ने पर फिर से मिल सकें। इस समय बूँदाबाँदी थम चुकी थी और आकाश में कहीं कहीं बादल छाये थे किन्तु बिजली बार बार चमक रही थी। कुछ दूरी पर अभी पहुँचे ही थे कि बिजली बहुत तेजी से चमकी।

दया सिंघ की दृष्टि रास्ते में बिखरे शवों पर पड़ी तो साहिबज़ादा अजीत सिंह का शव दिखाई दिया, उसने गुरूदेव जी से अनुरोध किया कि यदि आप आज्ञा दें तो मैं अजीत सिंह के पार्थिव शरीर पर अपनी चादर डाल दूँ। उस समय गुरूदेव जी ने दया सिंह से प्रश्न किया आप ऐसा क्यों करना चाहते हैं। दयासिंघ ने उत्तर दिया कि गुरूदेव, पिता जी आप के लाड़ले बेटे अजीत सिंह का यह शव है।

गुरूदेव जी ने फिर पूछा क्या वे मेरे पुत्र नहीं जिन्होंने मेरे एक सँकेत पर अपने प्राणों की आहुति दी है ? दया सिंह को इसका उत्तर हाँ में देना पड़ा। इस पर गुरूदेव जी ने कहा यदि तुम सभी सिंहों के शवों पर एक एक चादर डाल सकते हो, तो ठीक है, इसके शव पर भी डाल दो। भाई दया सिंह जी गुरूदेव जी के त्याग और बलिदान को समझ गये और तुरन्त आगे बढ़ गये।

योजना अनुसार गुरूदेव जी और सिक्ख अलग-अलग दिशा में कुछ दूरी पर चले गये और वहाँ से ऊँचे स्वर में आवाजें लगाई गई, पीर–ऐ–हिन्द जा रहा है किसी की हिम्मत है तो पकड़ ले और साथ ही मशालचियों को तीर मारे जिससे उनकी मशालें नीचे कीचड़ में गिर कर बुझ गई और अंधेरा घना हो गया। पुरस्कार के लालच में शत्रु सेना आवाज की सीध में भागी और आपस में भिड़ गई। समय का लाभ उठाकर गुरूदेव जी और दोनों सिंह अपने लक्ष्य की ओर बढ़ने लगे और यह नीति पूर्णतः सफल रही। इस प्रकार शत्रु सेना आपस में टकरा-टकराकर कट मरी।

अगली सुबह प्रकाश होने पर शत्रु सेना को भारी निराशा हुई क्योंकि हजारों असँख्य शवों में केवल पैंतीस शव सिक्खों के थे। उसमें भी उनको गुरू गोबिन्द सिंह कहीं दिखाई नहीं दिये। क्रोधतुर होकर शत्रु सेना ने गढ़ी पर पुनः आक्रमण कर दिया। असँख्य शत्रु सैनिकों के साथ जूझते हुए अन्दर के पाँचों सिक्ख वीरगति पा गए।

भाई जीवन सिंह जी भी शहीद हो गये जिन्होंने शत्रु को झाँसा देने के लिए गुरूदेव जी की वेशभूषा धारण की हुई थी। शव को देखकर मुग़ल सेनापति बहुत प्रसन्न हुए कि अन्त में गुरू मार ही लिया गया। परन्तु जल्दी ही उनको मालूम हो गया कि यह शव किसी अन्य व्यक्ति का है और गुरू तो सुरक्षित निकल गए हैं।

मुग़ल सत्ताधरियों को यह एक करारी चपत थी कि कश्मीर, लाहौर, दिल्ली और सरहिन्द की समस्त मुग़ल शक्ति सात महीने आनन्दपुर का घेरा डालने के बावजूद भी न तो गुरू गोबिन्द सिंह जी को पकड़ सकी और न ही सिक्खों से अपनी अधीनता स्वीकार करवा सकी। सरकारी खजाने के लाखों रूपय व्यय हो गये। हज़ारों की सँख्या में फौजी मारे गए पर मुग़ल अपने लक्ष्य में सफलता प्राप्त न कर सके।

यह गर्दन कट तो सकती है मगर झुक नहीं सकती।
कभी चमकौर बोलेगा कभी सरहिन्द की दीवार बोलेगी।।  "सरदार पँछी"



Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Saturday, August 22, 2015

फेसबुक URL में 4 add करने पर आएगा जुकरबर्ग का अकाउंट, जानिए और फैक्ट्स - FACEBOOK.COM/ZUCK (MARK ZUERBURG FACEBOOK ADDRESS)

फेसबुक URL में 4 add करने पर आएगा जुकरबर्ग का अकाउंट, जानिए और फैक्ट्स  - FACEBOOK.COM/ZUCK    (MARK ZUERBURG FACEBOOK ADDRESS)


फेसबुक हमारी रूटीन लाइफ का एक हिस्सा है, लेकिन इसके बारे में ऎसे कई सारे फैक्ट्स हैं, जिन्हें आप अब तक भी नहीं जानते होंगे। आइए जानते हैं फेसबुक के ऎसे ही इंटरेस्टिंग फैक्ट्स के बारे में...

1. अगर आप अपने फेसबुक url के आखिर में "4" जोड़कर एंटर करेंगे तो डायरेक्ट फेसबुक के फाउंडर मार्क जुकरबर्ग के अकाउंट पर पहुंच जाएंगे। वहीं 5 जोड़ने पर फेसबुक के को-फाउंडर क्रिस ह्यूज का प्रोफाइल ओपन होगा



जिस साइट को आप विजिट करते हैं, तो आपके साइन आउट करने के बाद भी फेसबुक उसे ट्रैक करता है

फेसबुक पर हर रोज करीब 6,00,000 लाख बार हैकिंग की कोशिश की जाती

अगर कोई भी यूजर फेसबुक सिस्टम या सॉफ्टवेयर में कोई बग ढूंढ निकालता है तो उसे 500 डॉलर ईनाम में दिए जाते हैं। हालांकि इसके लिए कुछ शर्ते भी हैं। कोई भी शख्स किसी की पर्सनल इंफोर्मेशन डिसक्लोज नहीं कर सकता है।

2007 में फेसबुक को रिडिजाइन करने से पहले फेसबुक का फर्स्ट फेस Al Pacino थे। वहीं फेसबुक का फेमस "Like" बटन पहले "Awesome" के नाम से लॉन्च करना निश्चित किया गया था।

3. फेसबुक का कलर ब्लू इसलिए रखा गया, क्योंकि इसके फाउंडर मार्क जूकरबर्ग लाल-हरे रंग की कलरब्लाइंडनेस से पीडित है। वे ब्लू कलर को सबसे अच्छी तरह देख पाते हैं



Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Thursday, August 20, 2015

एक बड़े शहर में " Get Husband " नामक एक स्टोर खुला। यह 6 मंजिला स्टोर था और हर मंजिल पर हसबेंड पसंद


एक बड़े शहर में " Get Husband " नामक एक स्टोर
खुला। यह 6 मंजिला स्टोर था और हर मंजिल पर हसबेंड पसंद
किया जा सकता था।
पहली मंजिल से आगे बढ़ते जाने पर और
बढ़िया हसबेंड
की गारंटी थी। हर मंजिल
पर लिखा था कि वहाँ किन विशेषताओं वाले
आदमी मिलेंगे।
एक महिला हसबेंड पसंद करने उस स्टोर में गयी।
पहली मंजिल--- इन पुरुषों के पास
नौकरी है।
महिला आगे बढ़ गयी और दूसरी मंजिल
पर गयी।
दूसरी मंजिल--- इन पुरुषों के पास
नौकरी भी है और ये
बच्चों को भी प्यार करते हैं।
महिला और आगे बढ़ी।
तीसरी मंजिल--- इन पुरुषों के पास
नौकरी है। ये बच्चों को प्यार भी करते
हैं और बहुत खूबसूरत भी हैं।
"वाह"....महिला ने सोचा लेकिन वह और आगे बढ़ी।
चौथी मंजिल--- इन पुरुषों के पास
नौकरी है। ये बच्चों को प्यार करते हैं। बहुत
खूबसूरत भी हैं और ये घरेलू कामों में हाँथ
भी बंटाते हैं।
" वाह, और मुझे क्या चाहिए? " उसने सोचा लेकिन वह और
आगे बढ़ी।
पांचवीं मंजिल--- इन पुरुषों के पास
नौकरी है। ये बच्चों को प्यार करते हैं। बहुत
खूबसूरत हैं। घरेलू कामों में हाँथ भी बंटाते हैं और
बहुत रोमांटिक मिजाज के भी हैं।
महिला वहाँ बहुत खुश हुई। थोड़ा रुकी लेकिन फिर
आगे बढ़ गई और छठवीं मंजिल पर
पहुंची।
छठवीं मंजिल पर लिखा था--- आप इस
छठवीं मंजिल की विजिटर नंबर
31,456,012 हैं। इस मंजिल पर कोई पुरुष
नहीं है। इस मंजिल पर आप
अकेली हैं जो इस बात का सबूत है
कि संतोषी होना औरत के लिए असम्भव है।
( हसबेंड स्टोर में शापिंग के लिए आने का बहुत बहुत
धन्यवाद )

उपरोक्त स्टोर के मालिक ने ही एक और स्टोर,
इसी स्टोर के सामने सड़क के पार खोला। नाम था "
Get Wife "
पहली मंजिल पर लिखा था--- ये
स्त्रियाँ पुरुषों की सुनती हैं।
.
.
.
.
.
दूसरी। तीसरी।
चौथी। पांचवीं और
छठवीं मंजिल पर विजिट के लिए
कभी भी कोई पुरुष
नहीं गया।


Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Monday, August 17, 2015

अगर हिम्मत है तो इसे पढ़कर अपनी हंसी रोककर दिखाओ




 अगर हिम्मत है तो इसे पढ़कर अपनी हंसी रोककर दिखाओ.. . .

एक नीग्रो बस में अपने बच्चे के साथ जा रहा था....
कंडक्टर ने उसका बच्चा देखकर कहा- "इतना काला बच्चा मैंने आज तक नहीं देखा"......
नीग्रो को गुस्सा आया, लेकिन वो कुछ नहीं बोला और सीट पर आकर बैठ गया।

संता ने उससे पूछा: "क्या हुआ भाई साहब"?
नीग्रो ने संता से कहा: अरे यार, उस कंडक्टर ने बेइज्जती कर दी। . . . .

संता : अरे मार साले को जाकर। . . . ला ये चिम्पांजी का बच्चा मुझे पकड़ा दे...
साला काटेगा तो नहीं........
����






 एक एक्सिडेंट हुआ..
बहुत भीड़ जमा हो गयी.. ।
 पप्पू को देखने का मौका नही मिल रहा था!
उसने बहुत कोशिश की पर कुछ भी नही देख पाया..
पप्पू दिमाग़ लगा कर बोला : हट जाओ
सब ये मेरा बाप है...
भीड़ पीछे हटी......
.
.
.
.
.

.
.
.
तो देखा कुत्ता मरा पड़ा था.!��������������





भाई का इन्तजार
तो 11 गांव की छोरीया
कर रही है

मगर

भाई का आना
मूश्किल ही नहीं
नामुमकिन है ..

क्योंकि? ????

.

.

.

.
भाई तो खेत में टेकटर चला रहा है

न वफा का जिकर होगा

न वफा की बात होगी

अब मोहब्बत जिससे भी होगी

  धान की
रोपनी के बाद होगी��







सेवा में,
       
            सभी ग्रुप मेंबर्स
               Of Whatsup ...


विषय :- ग्रुप में योगदान हेतु आवेदन पत्र।।।।

       महोदय,
               
               सनम्र निवेदन है कि ग्रुप में सक्रीय लोगो की भूमिका कम होती जा रही है, कुछ लोग केवल मेसेज पढ़कर ही अपने कर्तव्य की इति श्री समझ ले रहे है।जो की उचित नहीं है। अत: सभी ग्रुप मेम्बर्स से निवेदन है कि ग्रुप में अपनी उपस्थिति और योगदान देवे।।

                                         
                                   धन्यवाद।

 1. DOG सड़क पे उल्टा पड़ा था तो लोग
उसकी पूजा करने
लगे....क्योँ??
.
.
क्योकि DOG उल्टा GOD होता हैँ...
.
.
.
.
2. मरे हुए व्यक्ति के मुँह मेँ
क्या डालना चाहिए??
.
.
बिड़ला सीमेन्ट.... क्योकि इस
सीमेन्ट मेँ जान है...
.
.
.
.
3. 13 का घनमूल क्या है??
.
.
सुरूर,क्योकि 13...13...13...=
सुरूर...
.
.
.
.
4.
जो लड़की कभी नही हँसती उसे
क्या कहेगेँ??
.
.
"हसी-ना"
.
.
.
.
5. जिसका दिल टूट जाता उसका GK कमजोर
होता है??
.
.
क्योकि, जब दिल ही टूट
गया तो GK क्या करेगा....
.
.
.
.
6. अगर 2 पीपल के पेड़
को रस्सी से
बाँध दिया जाये तो उस
रस्सी को क्या कहेगेँ??
.
.
नोकिया - कनेक्टिगं पीपल...

हमारे साथ बने रहिए
हम आपको ऐसे ही
ज्ञान गंगा मेँ डुबकी लगवाते रहेगें...
������������
�� सुखी जीवन के 10 सूत्र .....


1)जीवन में पैसा ही सब कुछ नही होता ....
~ मास्टर कार्ड और visa की भी कोई वैल्यू है ��

2)जानवरों से प्यार करो ��������
 ~ वो स्वादिष्ट भी होते हैं ������

3) पानी बचाओ ....��
 ~ दारू पियो ��������


4) फल और सलाद बहुत स्वास्थ्य प्रद होते हैं ..... ����������
~ उन्हें बीमारों के लिए रहने दो ����


5) किताबें पवित्र होती हैं ..... ������
 ~ उन्हें मत छुओ ��


6) कक्षा में हंगामा नहीं करना चाहिए ...
 ~ जो सो रहे हैं वो जाग सकते हैं ��


7)पड़ोसियों से प्यार करो ....⛪��
 ~ लेकिन पकडे मत जाओ ����


8) मेहनत करने से कोई नहीं मरता . ��
~ लेकिन रिस्क क्यूँ लेना भला ��


9) जो काम कल किसी और के द्वारा किया जा सकता हो.
 ~ उसे भला आज क्यूँ करना ��


10)सबको शादी जरूर करनी चाहिए .... ��

~क्यूंकि जिन्दगी में खुशियाँ ही सब कुछ नही होती..!!!



स्पेशल फार्मूला -
अगर पांच सौ लोगों के लिए
शिकंजी बनानी हो तो
दो ढक्कन TIDE मिला दें
क्यूंकि नए TIDE मेँ है
हज़ारों निम्बूओं की शक्ति... ����

------------------------

अगर आप घर में अकेले बैठे बोर होते रहते है तो घर में jk
wall putti लगवाए ...
"दीवारे बोल उठेंगी " .
.
.
फिर खूब बतियाना ����

------------------------------------------------

-रात भर मुझे इस बात ने सोने
नहीँ दिया
कि
ज़िन्दगी तो बस चार दिन की हैँ
और
इंटरनेट-पैक मैने 30 दिन
का करवा लिया ।
������������������

-----------------------------------------

 वाइफ  :  मैं  हर  रोज़  पूजा  करती  हूँ ..  काश  एक  दिन  श्री  कृष्णा  के  दर्शन  हो  जाये  !

हस्बैंड  :  एक  बार  मीराबाई  बन  के  ज़हर  पीले ..  श्री  कृष्णा  क्या ,  सारे   भगवान  के  दर्शन  हो  जायेंगे  ����
������

--------------------------------------

 साधू:- बच्चा, तुझे स्वर्ग मिलेगा,
लाओ कुछ दक्षिणा दे जाओ।
लड़का:- ठीक है दक्षिणा में आपको मैंने दिल्ली दी।
आज से दिल्ली आपकी हुई।
साधू :- दिल्ली क्या तुम्हारी है ?
जो मुझे दे रहे हो।
लड़का :- तो स्वर्ग क्या तेरे बाप ने खरीद रखा है,
जो तू उधर के प्लाट यहाँ बांट रहा है।
������������

-------------------------------------

अकबर:-सेनापति..! यह बताओ कि हम अनारकली को क्यों नहीं ढूंढ़ पा रहे हैं..??

सेनापतिः-महाराज, क्योंकि हम मुगल हैं, गुगल नहीं...!!!����

------------------------------------------
पंजाब रोडवेज ��  BUS के पीछे लिखा हुआ था।  :-

जे वाहेगुरु दा हुकम होया ,
तां मंजिल तक पहुचां देवां गे ! "
" जे अंख लग गयी ,
ते वाहेगुरु नाल ही मिला देवांगे! "
����������
कॉलेज का पहला दिन -

लड़का - तुम्हारा नाम क्या है ?

लड़की - सब मुझे 'दीदी' कहते है ।

लड़का - क्या संयोग है ?
मुझे सब 'जीजाजी' कहते है।

����������������

Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

पहले एक इस्लामिक देश में मोदीजी का "भव्य स्वागत" होना फिर पुरे शाही परिवार द्वारा प्रोटोकाल को तोड़ कर "मोदीजी से मिलना" फिर दुनिया


पहले एक इस्लामिक देश में मोदीजी का "भव्य स्वागत" होना
फिर पुरे शाही परिवार द्वारा प्रोटोकाल को तोड़ कर "मोदीजी से मिलना"
फिर दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी मस्जिद में "मोदी - मोदी" के नारे लगना
फिर UAE सरकार द्वारा हिन्दू "मंदिर के लिए जमीन देना"
और अंत में शेखो के द्वारा मोदीजी के साथ "गुजराती थाली" खाना
.
.
किसी ने सच ही कहा है -
झुकती है दुनिया, झुकाने वाला चाहिए -


Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Sunday, August 16, 2015

Eligibility Test for Scientist , Engineers and Govt Officers Should be Made Compulsory

  साइंटिस्ट , इंजीनियर्स व् तमाम प्रोफेशनल्स के लिए एलिजिबिलिटी टेस्ट अनिवार्य कर दीये जाएँ
Eligibility Test for Scientist , Engineers and Govt Officers Should be Made Compulsory



अगर देश में साइंटिस्ट , इंजीनियर्स व् तमाम प्रोफेशनल्स के लिए एलिजिबिलिटी टेस्ट अनिवार्य कर दीये जाएँ
तो साक्षात्कार - इंटरवियु के नाम पर चल रहे छद्म खेल में सुधार आएगा ।

मोटी पगार पाने वाले वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को एक निर्धारित टेस्ट जरूर पास करना चाहिए , जिस से जनता की गाढ़ी कमाई का सदुपयोग हो , और योग्य वैज्ञानिको को अच्छी पगार दी जानी चाहिए  ।

अगर कोई वैज्ञानिक साइंटिस्ट एफ पर काम कर रहा है तो साइंटिस्ट ऍफ़ के लेवल के अनुरूप टेस्ट पास करे
अगर कोई वैज्ञानिक साइंटिस्ट ई  पर काम कर रहा है तो साइंटिस्ट ई  के लेवल के अनुरूप टेस्ट पास करे

मगर होता क्या है की बेक डोर से एंट्री पाने वाले तमाम  वैज्ञानिक निदेशक इत्यादि बन कर प्रसाशन सँभालते हैं और योग्य नौजवान वैज्ञानिकों - साइंटिस्ट बी , सी इत्यादि की उपलब्धियों को अपनी बता कर फायदा उठाते हैं ।
जैसे लड़ता देश का सिपाही है लेकिन नाम जनरल का होता है ।
टीम लीडिंग  क़्वालिटी एक अलग बात है लेकिन जब वैज्ञानिक उस स्तर का न हो , वैज्ञानिक पद के  योग्य न हो तो कनिष्ठों में असंतोष उत्पन्न होता है ।
 बेहतर है की देश के वैज्ञानिक , इंजीनियर - आई क्यू लेवल के निर्धारित टेस्ट में बैठें और हर दो साल बाद ऐसे टेस्ट आयोजित किये जाएँ ,
फेल होने वालों के प्रमोशन रोके जाएँ , लगातार फेल होने  वालो की नौकरी से छुट्टी की जाए ।
रटंत विद्या की और जोर न दे कर नए विचारों वाले वैज्ञानिकों को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए

निर्धारित एप्टीट्यूड टेस्ट सभी सरकारी नौकरियों के लिए जरूरी कर दीये जाने चाहिए , भ्रस्टाचारी लोगो पर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए कार्यवाही की जानी चाहिए ।  सिस्टम अपने आप सुधरता चला जाएगा



Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Friday, August 14, 2015

FLIPKART INDEPENDENCE DAY OFFER स्वतंत्रता दिवस पर फ्लिपकार्ट का ऑफर

#FLIPKART INDEPENDENCE DAY OFFER
स्वतंत्रता  दिवस पर फ्लिपकार्ट का ऑफर

1)    Extra 10% Cashback with Citi Bank Credit Cards on purchase through App                   
                       
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
                       
2)    Launching Sansui Air Conditioners exclusively on Flipkart        - Click Here for Independence Day Offer                          
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)                      
                       
3)    Upto 48% Off on 50 inch Televisions               - Click Here for Independence Day Offer                           
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
        
                       
4)    Upto 35% Off on 32 inch Televisions           - Click Here for Independence Day Offer                                   
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
                       
5)    Onida 80 cm (32inch) smart TV just at Rs 24990          - Click Here for Independence Day Offer                              
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
        
                       
6)    Flat 40% OFF on Air Conditioners                - Click Here for Independence Day Offer                        
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
                       
7)    Upto Rs. 10000 off on bestselling Washing Machines        - Click Here for Independence Day Offer            

                     
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
                       
8)    Minimum 25% OFF on Best Selling Microwave Ovens    - Click Here for Independence Day Offer                           
                
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)                     
                       
9)    Upto 45% Off on 40 inch Televisions                - Click Here for Independence Day Offer                              
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)                  
                       
10)    Vu 80 cm ( 32inch) Full HD TV at just Rs 18990        - Click Here for Independence Day Offer                                    
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
             
                       
11)    BPL Televisions - Upto Rs. 6000 Off on exchange        - Click Here for Independence Day Offer                        :              
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
                       
12)    Micromax 80 cm(32inch) LED TV at just Rs 14990              - Click Here for Independence Day Offer                                
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
                       
13)    Minimum Rs.6,000 OFF on Premium Refrigerators            - Click Here for Independence Day Offer                   
               
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
         
                       
14)    BPL Refrigerators - Starting at just Rs. 9990                   - Click Here for Independence Day Offer                     
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
                       
15)    Single Door Refrigerators - Starting at just Rs.5,999      - Click Here for Independence Day Offer                                       
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)                   
                       
16)    Double Door Refrigerators  - Starting at just Rs.13,990      - Click Here for Independence Day Offer                                          
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
     
                       
17)    LG, Samsung Refrigerators starting at just Rs.10,990           - Click Here for Independence Day Offer                     
    Landing Page    :              
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
    Creative Banners    :    JPEG Banners are attached           
                       
18)    Front Load Washing Machine starting at just Rs. 16990      - Click Here for Independence Day Offer                                     
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 PM)           
       
                       
19)    Semi-automatic Washing Machines  starting from Rs. 5990          - Click Here for Independence Day Offer                      
    :               
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 pm)                  
                       
20)    Washing Machines starting from just Rs. 3990                    - Click Here for Independence Day Offer            :               
    Validity    :    August 15th ( 11:59:59 pm)           
         
                       
21)    Lava Pixel V1 with Android one at just Rs11349               - Click Here for Independence Day Offer                         
                       
22)    Moto G2 - Upto Rs4000 Off on exchange        - Click Here for Independence Day Offer                             




Best Deal FLIPKART SNAPDEAL AMAZON on Mobile , Laptop and Other Clothing, Home Furnishing and Gift Accesories - http://flipkartsaleonline.blogspot.com Flipkart Best Deal


Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Thursday, August 13, 2015

मित्रों, मैं आज आप को अनंतपुर, आंध्र प्रदेश के झूलते पिलर (स्तम्भ) वाले लेपाक्षी मंदिर के बारे में बताता हूँ|

मित्रों,
मैं आज आप को अनंतपुर, आंध्र प्रदेश के झूलते पिलर (स्तम्भ) वाले लेपाक्षी मंदिर के बारे में बताता हूँ|
आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले का लेपाक्षी मंदिर हैंगिंग पिलर्स (हवा में झूलते पिलर्स) के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है। इस मंदिर के 70 से ज्यादा पिलर बिना किसी सहारे के खड़े हैं और मंदिर को संभाले हुए हैं। मंदिर के ये अनोखे पिलर हर साल यहां आने वाले लाखों टूरिस्टों के लिए बड़ी मिस्ट्री हैं। मंदिर में आने वाले भक्तों का मानना है कि इन पिलर्स के नीचे से अपना कपड़ा निकालने से सुख-समृद्धि मिलती है। अंग्रेजों ने इस रहस्य को जानने के लिए काफी कोशिश की, लेकिन वे कामयाब नहीं हो सके।
कैसे पड़ा 'लेपाक्षी' नाम
लेपाक्षी इलाके के नाम के पीछे एक कहानी है कि वनवास के दौरान भगवान श्रीराम, लक्ष्मण और माता सीता यहां आए थे। सीता का अपहरण कर रावण अपने साथ लंका लेकर जा रहा था, तभी पक्षीराज जटायु ने रावण से युद्ध किया और घायल हो कर इसी स्थान पर गिरे थे। बाद में जब श्रीराम सीता की तलाश में यहां पहुंचे तो उन्होंने 'ले पाक्षी' कहते हुए जटायु को अपने गले लगा लिया। ले पाक्षी एक तेलुगु शब्द है जिसका मतलब है 'उठो पक्षी'।
अंग्रेजों ने की थी मिस्ट्री जानने की कोशिश
16वीं सदी में बने इस मंदिर के रहस्य को जानने के लिए अंग्रेजों में इसे शिफ्ट करने की कोशिश की, लेकिन वे नाकाम रहे थे। एक इंजीनियर ने इसके रहस्य को जानने के लिए मंदिर को तोड़ने का प्रयास किया तो पाया कि मंदिर के सभी पिलर हवा में झूलते हैं। मंदिर को सन् 1583 में विजयनगर के राजा के लिए काम करने वाले दो भाईयों (विरुपन्ना और वीरन्ना) ने बनाया था। वहीं, पौराणिक मान्यताओं के मुताबिक इसे ऋषि अगस्त ने बनाया था।
लेपाक्षी मंदिर में हैं कई खास बातें
इस मंदिर का निर्माण 16वीं शताब्दी में किया गया। यह मंदिर भगवान शिव, विष्णु और वीरभद्र के लिए बनाया गया है। यहां तीनों भगवानों के अलग-अलग मंदिर भी मौजूद हैं। यहां बड़ी नागलिंग प्रतिमा मंदिर परिसर में लगी है, जो कि एक ही पत्थर से बनी है। यह भारत की सबसे बड़ी नागलिंग प्रतिमा मानी जाती है। काले ग्रेनाइट पत्थर से बनी इस मूर्ति में एक शिवलिंग के ऊपर सात फन वाला नाग बैठा है। दूसरी ओर, मंदिर में रामपदम (मान्यता के मुताबिक श्रीराम के पांव के निशान) स्थित हैं, जबकि कई लोगों का मानना है की यह माता सीता के पैरों के निशान हैं।
अब देखिये इस मंदिर के चित्र- ☺️




Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

��U P or U P ke bare mein bolne se pahle, soch le यू पी -जहाँ भगवान राम


��U P  or U P  ke bare mein bolne se pahle, soch le





यू पी -जहाँ भगवान राम का जन्म हुआ

Up-जहाँ परशुराम का जन्म हुआ


up - जहा बुद्ध ने समाधी ली

Up-जहाँ भगवान कृष्ण  का जन्म हुआ

Up-जहाँ सत्यवादी राजा हरिशचन्द्र जी का जन्म हुआ

Up -जहाँ के राजा दशरथ  ने चक्रवर्ती होकर पूरे भूमंडल पर
पताका फहराया

Up- वाल्मीकि (जिसने
रमायण
लिखा )
सूरदास तुलसीदास व्यास
रहीम, कबीर
का जन्म हुआ !


up- जहाँ के 20 साल के लड़के ़े ने अंग्रेजो के
दांत खट्टे कर दिए
(चंद्रशेखर आजाद  )


up- जिसने देश
को पहला प्रधान मंत्री दिया

up- जहाँ महान क्रांतिकारी मंगल पांडे
का जन्म हुआ !


up- जहाँ परम वीर चक्र विजेता अब्दुल हमीद , cpt मनोज पांडे , यदुनाथ सिंह , योगेन्द्र यादव
का जन्म हुआ !


up- जहाँ सदी के महानायक amitaab बच्चन का जन्म हुआ !

up- जहाँ - भगवती शरण बर्मा , महादेवी वर्मा , मुंशी प्रेमचंद ,


जैसे महान लेखको का जन्म हुआ !


Up- जहाँ बिस्स्मिल्लाह खान का जन्म हुआ

Up- जहाँ आज भी दिलो में प्रेम बसता है

Up- जहाँ आज भी बच्चे अपने माँ - बाप के
पैर दबाये
बिना नही सोते

up- जहाँ से सबसे ज्यादा बच्चे देश का Vvvvvvvv कठिन
परीक्षा u .p .s .c. और IIT पास करते है


up- जहाँ के गाँव में आज
भी दादा दादी अपने
बच्चो को कहानिया सुनाते है

up- जहाँ आज भी भूखे रह के अतिथि को खिलाया जाता है

Up- जहाँ के बच्चे कोई सुविधा न होते हुए
भी देश में सबसे ज्यादा सरकारी नौकरी पते है !


हम इसी upके रहने वाले हैं !









तो क्यों न
करे खुद के
up का होने पर गर्व !जय उत्तर प्रेदेश  !!





इसे सेयर करें और up से बाहर जाने दें।।।।।।।।।।
।।।।।।।।।।।।।।।।।।।
और जो नही है वो जानकारी तो जरूर रखे।।
आखिर भारत के बाहर जाके तो बोल ही सकते है।।
������



Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

मेकअप उतरने के बाद सामने आया असली चेहरा दूल्हा हुआ बेहोश।


मेकअप उतरने के बाद सामने आया असली चेहरा दूल्हा हुआ बेहोश।
मांगा 12 लाख रुपये का मुआवजा।
धोका है यारो जरा बच् के रहना।




Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Richest Country in the World!

Richest Country in the World!


 EYE OPENER !!!!!!!!                




Please forward this email to as many Indians!!!


Right now, India is the richest country in the world! Wondering how? It's really amazing.

(1)  It's due to Mr. G Vaidyaraj, who donated all his wealth, about which he actually did not know.

He is a descendent of Raja Krishnadev Raya from Mysore district.

For the last 300 years or so, three stones were worshipped in his house.But nobody tried to see what it was, except this person, who is a
lawyer by profession. One day, when there was nobody in his house, he took the stone out to see what it was that they worship.
Due to the dust deposited on it, from many many years, it looked only like a simple stone.
But when he touched it, some portion of the stone was cleansed.
And he saw a bright ray of light.

He saw something which attracted his attention. And he was amazed when he cleaned all of them.The whole room was filled with light.
He discovered they were diamonds of about 4600 carats each.

He informed the Govt. of India and the news is censored with its security.
It's now deposited in a Swiss Bank.
The cost of single diamond exceeds the GDP of USA + UK .

Even World Bank does not have enough money to buy it.
India can buy virtually 7 developing nations.

One diamond costs thrice the debt of World Bank over India .

One such diamond can buy 10 Bill Gates to you.
And the World Bank has proposed the Indian Govt. that it can pay India in Installment if it wishes to do so.

India 's GDP is 34.25 billion dollars.

Bill Gates property is 95 billion dollars approximate so that is the way 'nature changes'.

Our Prime Minister has refused to sell it.

He said it will be sold or mortgaged for credit when we need it. Otherwise right now we have no problems.

You can go through Times of India with a small column on it a week ago.

Star TV presented a 115 min documentary on it about 15 days ago.

The Hindu with its half page article in it.

After that it was censored as classified.

(2)  Another good news is that in the Desert of Thar RAJ ASTHAN(BORDERING SINDH) a deposit of Oil and Natural gas have been found. This stores what Kuwait has in its stomach.

India can go with the ONGC energy reserve with another 30 years.And moreover it can export it to other counties.
It's incredible!! But true.

(3)  An Indian boy in his 12th standard has disproved Einstein's 'Theory of Relativity'.
Shocked? Read on...

Sudarshan Reddy has theoretically proven the existence of a sub-atomic particle, which can travel at speed greater than that of light, thereby challenging one of the fundamental postulates of the 'Theory of Relativity'.

In his recent research paper submitted to the Institute of Advanced Physics (IAP) at Trieste ( Italy ), Sudarshan has proved the existence of a class of sub-atomic particles called leptons', which can travel faster than light.
The international physics community is shocked by this discovery.

Dr.Massimo Martelli, President of the IAP has this to say about the paper submitted by Sudarshan. 'After long, careful and critical analysis, I can confidently say that Sudarshan's research papers show tremendous leap in our understanding of physics.
His investigation
mounts up on 'leptons'.. His work builds substantially on the work of Einstein and others in the field of relativity.'
When physicists from Princeton University tried to measure Sudarshan's IQ with an IQ-meter (at the American Embassy in Delhi ), the meter broke down.
Sudarshan, incidentally, is the brother of Madhu Reddy, the Indian whiz kid who developed an operating system superior to Microsoft Windows.
We should all be very proud of these boys.

Please forward this email to as many Indians!!!


Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com