Labels

Saturday, January 30, 2016

Dharmendra Pratap Singh Tallest Living Man of India

Dharmendra Pratap Singh Tallest Living Man of India

At 8 feet 1 inch, ‘tallest’ Indian amuses mela crowd to earn a livelihood


Surendra Pratap Singh is Father of Dharmendra Pratap Singh having height 6 feet, and was a lock development officer (BDO) in UP.


Talking about how he starts his day, Singh said, "I consume 1 litre milk, two apples and four eggs in the breakfast. For lunch, I have daal-chawal, roti-sabzi and salad..but in the evening I take light food," smiled Singh and added further, "Evening food includes sabzi-roti with curd in the evening and dinner includes my favourite paneer."
When the fair is not on, Singh runs a small business of building material in Pratapgarh to earn a living. Asked if he was married, Singh said, "Nobody ever selected me. I think, had the government helped me in getting a job and I had earned a good salary, I also would have had a wife and a small family of my own. But now, I have lost all hopes."
Counting on his unusually long fingers, Singh said, "I earn somewhere between Rs 500 and Rs 1,000 a day from this show at the fair. Now, I have started feeling good when people are amused to look at me."
Meerut-based Dr. Harish Mohan Rastogi, a doctor who has studied human growth, said, "The disease is known as gigantism which occurs after excessive release of growth hormones. In this type of condition, a person tends to grow beyond a certain limit—so much so—that even bones turn fragile and fractures become common. Moreover, spondylitis is also a major drawback of this disease."
**************************************************************

मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को ‘लंबू’ व ‘छोटू’ की मदद का भरोसा दिया। ‘लंबू’ यानी धर्मेंद्र प्रताप सिंह 8 फीट 1 इंच के हैं




36 वर्षीय धर्मेंद्र प्रतापगढ़ जिले के कसियाई नरहरपुर गांव के तो 10 साल के दयानंद भी इसी जिले के लाखीपुर का रहने वाला है। कक्षा 6 में पढ़ रहा दयानंद ढाई साल की उम्र से ही ढोलक बजाता रहा है।

प्रतापगढ़ के सदर विधायक नागेंद्र सिंह की गुजारिश पर मुख्यमंत्री ने दोनों को आर्थिक मदद देने का भरोसा दिया। दोनों शुक्रवार को मुख्यमंत्री से उनके आवास पर मिले।

धर्मेंद्र ने कहा-लोग चिढ़ाते हैं
धर्मेंद्र ने सीएम से कहा-असामान्य लंबाई के कारण मुझे तमाम समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लोग तरह-तरह के कमेंट करते हैं। धरती पर बोझ तक कह देते हैं। इस पर सीएम ने कहा, लंबे व्यक्ति को लंबू, छोटे को छोटू कहना तो चलता है। लोग हमें क्या-क्या नहीं कहते। दूसरे की टिप्पणियों पर चिंता क्यों करें?

****************************************************




Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Sun Mingming Tallest Basketball Player 7 Feet 9 Inches Height ...

Sun Mingming Tallest Basketball Player 7 Feet 9 Inches Height ...



Mingming Sun (simplified Chinese: 孙明明; traditional Chinese: 孫明明; pinyin: Sūn Míngmíng, born August 23, 1983) is a Chinese free agent professional basketball player who lastly played for the Beijing Ducks of the Chinese Basketball Association. Sun wears size 20 shoes and makes occasional appearances as an actor. He is also currently the tallest professional basketball player in the world.

Sun was measured by the Guinness World Records and stands at 7 feet and 8.98 inches on barefoot;Sun also weighs at 370 lbs.


Position Center
Personal information
Born August 23, 1983 (age 32)
Bayan County, Harbin, Heilongjiang, China
Nationality Chinese
Listed height 7 ft 9 in (2.36 m)
Listed weight 370[1] lb (168 kg)
Career information
NBA draft 2005 / Undrafted
Pro career 2006–present
Career history
2006 Dodge City Legend
2007 Maryland Nighthawks
2007 Grand Rapids Flight
2007 Fuerza Regia
2008 Grand Rapids Flight
2008–2009 Hamamatsu Phoenix
2009–2014 Beijing Ducks





***************************************
Sun Mingming and His Wife (Tallest Married Couple) 



*************************************************





Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

एक बार किसी देश का राजा अपनी प्रजा का हाल-चाल पूछने के लिए गाँवो में घूम रहा था ,,,


एक बार किसी देश का राजा अपनी
प्रजा का हाल-चाल पूछने के लिए गाँवो में
घूम रहा था ,,,
घूमते-घूमते उसके कुर्ते का बटन टूट गया,,, उसने
अपने मंत्री को कहा कि, पता करो की
इस गाँव में कौन सा दर्जी हैं,जो मेरे बटन
को सिल सके,,, मंत्री ने पता किया ,, उस
गाँव में सिर्फ एक ही दर्जी था,, जो कपडे
सिलने का काम करता था,,,
उसको राजा के सामने ले जाया गया,,
राजा ने कहा,कय़ा तुम मेरे कुर्ते का बटन
सी सकते हो,,, दर्जी ने कहा,यह कोई
मुश्किल काम थोड़े ही है,,, उसने मंत्री से
बटन ले लिया,,, धागे से उसने राजा के कुर्ते
का बटन फोरन सी दिया,,, क्योंकि बटन
भी राजा के पास था,, सिर्फ उसको
अपना धागे का प्रयोग करना था,,,
... राजा ने दर्जी से पूछा कि,, कितने पैसे दू
,,, उसने कहा, महाराज रहने दो,,, छोटा
सा काम था,, उसने मन में सोचा कि,बटन
भी राजा के पास था,, उसने तो सिर्फ
धागा ही लगाया हैं,,, राजा ने फिर से
दर्जी को कहा, कि,,, नहीं नहीं बोलो
कितनीे माया दू,,, दर्जी ने सोचा कि,,
2 रूपये मांग लेता हूँ,,, फिर मन में सोचा
कि; कहीं राजा यह ने सोचलें,कि ,,, बटन
टाँगने के मुझ से 2 रुपये ले रहा हैं,,, तो गाँव
वालों से कितना लेता होगा,,, क्योंकि
उस जमाने में २ रुपये की कीमत बहुत होती
थी,,,
दर्जी ने राजा से कहा, कि,, महाराज जो
भी आपको उचित लगे ,, वह दे दो,, अब था
तो राजा ही,,उसने अपने हिसाब से देना
था,, कहीं देने में उसकी पोजीशन ख़राब न
हो जाये,,,
उसने अपने मंत्री से कहा कि,, इस दर्जी को
२ गाँव दे दों, यह हमारा हुकम है ,,,
कहाँ वो दर्जी सिर्फ २ रुपये की मांग कर
रहा था,, और कहाँ राजा ने उसको २ गाँव
दे दिए ,,
जब हम ऊपर वाले पर सब कुछ छोड़ देते हैं,
तो वह अपने हिसाब से देता हैं,,
सिर्फ हम
मांगने में कमी कर जाते है,,,
देने वाला तो
पता नही क्या देना चाहता हैं,,,
इसलिए अपने
आपको उसके हवाले कर दों,, फिर देखो उसका कमाल


Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

एक जापानी जहाज़ अरब सागर की तरफ बढ़ रहा था, मौसम साफ़ था और लक्ष्य तक पहुचने में एक दिन और लगते. कप्तान को नहाने की इच्छा हुई,

एक जापानी जहाज़ अरब सागर की तरफ बढ़ रहा था, मौसम साफ़ था और लक्ष्य तक पहुचने में एक दिन और लगते. कप्तान को नहाने की इच्छा हुई,
उसने अपनी रोलेक्स की घडी और सोने की चेन को उतारी और नहाने के लिए बाथरूम में चला गया. लेकिन, जब वह बाथरूम से वापस आया तो उसकी चेन और घडी दोनों गायब थीं.
उसने जहाज के बाकी सदस्यों से पूछताछ के लिए बुलाया की पिछले पंद्रह मिनट में वे कहाँ थे :
कुक : मैं फ्रीज से मीट निकल कर उसे पकाने की तयारी कर रहा था.
इंजीनियर (अपने औजार और कैप के साथ) : सर, मैं जनरेटर के इंजन पर काम कर रहा था.
रेडियो अफसर : मैं कंट्रोल रूम रेडियो सिग्नल दे रहा था.
नाविक : सर, मैं झंडा ठीक कर रहा था, किसी ने गलती से उल्टा लगा दिया था.
सह-कप्तान : सर, थोड़ी आँख लगा गयी थी.
कप्तान को समझ आगया कि कौन झूठ बोल रहा था. क्या आपको पता चला?


Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

पढ के जरा सोचे ।। एक परिवार मे 4 सदस्य थे । पति-पत्नी दो बच्चे थे ।सभी एक साथ बाजार गए । बाजार खत्म करने के बाद वापसी के समय जिस रास्ते से आ रहे

पढ के जरा सोचे ।।
एक परिवार मे 4 सदस्य थे ।
पति-पत्नी दो बच्चे थे ।सभी एक साथ बाजार गए ।
बाजार खत्म करने के बाद वापसी के समय जिस रास्ते से आ रहे
उसी रास्ते से कुछ लोग मृत शरीर (लाश) ले के जा
रहे थे ।
बच्चे थोड़े चंचल थे । रास्ते मे आने जाने वाले साधनो मे हाथ लगा देते ।
इसी बीच अचानक उनका हाथ मृत
शरीर ले जाते लोगों मे लग गया ।
माँ ने देख लिया और तुरंत थप्पड़ लगाते हुए बोली वो लोग
अशुध्द है मृत शरीर लेके श्मशान जा रहे अब तुम्हें
नहाना पड़ेगा । थोड़ा ठंडी ही थी
उसे नहलाया गया ।
कुछ साल बीते , पिता के साथ वो लड़का बाजार गया । पिता
जी उस बच्चे के सामने मांस खरीदे । लड़का सब
देख रहा था ।मांस लेकर घर पहुंचे।
घर मे सब बन के तैयार हुआ और डाईनिंग टेबल पर खाने के लिए बैठे ।
माँ मीठी आवाज मे बोली बेटा खाओ ।
हम नही खाएगे बेटे ने जवाब दिया ।
माँ ने पूछा क्यों ?
लड़के का जवाब सुनते ही माता पिता अपना सर झुका लिए।
लड़के का जवाब :- माँ मै उस दिन केवल अन्जाने मे मृत शरीर से
मेरा हाथ लग गया तो आपने मुझे मारा और अशुध्द बोलकर नहलाया, और
आज पैसे देकर किसी मजबूर बकरे को कटवा कर लाए । और
आपने उसे घर मे बनाया । और फिर आप खुद खा भी
रही और हमे खिला रही ।दोनो तो मृत
शरीर ही है
फिर ऐसा क्यूँ क्या हमारा पेट श्मशान है । माँ ने sorry बोला और सब खाना
कचरे मे फेंक दिया ।।
भावार्थ :- मांस केवल शैतान लोग खाते थे। सभी जानते हुए
भी खाते है बहुत लोग तो Faishion बोल के खाते है।
कभी किसी पुराणों मे कही
किसी दैवी देवता को खाते हुए देखा है या सुना
है ।अगर ये अच्छी चीज होती
तो नवरात्रि मे इसे क्यों नही खाते है ।
कहा भी जाता है -
जैसा अन्न , वैसा मन
कभी ये नही सोचे की केवल बड़े
लोग ही सीखने योग्य बाते कह सकते है
। हम अगर सीखना चाहे तो किसी से
भी सीख सकते है ।

Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

******एहसास****** एक प्रेमी-युगल शादी से पहले काफी हँसी-मजाक और नोक-झोंक किया करते थे। शादी के बाद उनमें छोटी छोटी बातो पे झगड़े होने लगे।


******एहसास******
एक प्रेमी-युगल शादी से पहले काफी हँसी-मजाक और नोक-झोंक किया करते थे।
शादी के बाद उनमें छोटी छोटी बातो पे झगड़े होने लगे।
.
एक दिन उनकी शादी कि सालगिरह थी
पर बीबी ने कुछ नहीं बोला वो पति का रेस्पॉन्स देखना चाहती थी।
.
सुबह पति जल्दी उठा और घर से बाहर निकल गया।
बीबी रूआंसी हो गई।
.
दो घण्टे बाद डोरबेल बजी वो दौड़ती हुई गई जाकर दरवाजा खोला।
दरवाजे पर गिफ्ट और केक के साथ उसका पति था।
.
पति ने गले लगा के सालगिरह विश किया फिर पति अपने कमरे मेँ चला गया।
तभी अचानक पत्नि के पास पुलिस थाने से फोन आता है की आपके पति की हत्या हो चूकी है उनके जेब में पड़े पर्स से आपका फोन नम्बर ढ़ुंढ़ के कॉल किया गया है।
.
.
पत्नि सोचने लगी की पति तो अभी घर के अन्दर आये है फिर उसे कही पे सुनी एक बात याद आ गई की मरे हुये इन्सान की आत्मा अपनी अंतिम विश पूरी करने एक बार जरूर आती है।
.
.
वो जोर-जोर से रोने लगी।
.
उसे अपना वो सारा चूमना लड़ना झगड़नानोक-झोंक याद आने लगा उसे पश्चाताप होने
लगा की अन्त समय में भी वो अपने पति को प्यार ना दे सकी वो बिलखती हुई रोने लगी।
जब रूम में गई तो देखा उसका पति वहाँ नहीं था।
.
वो चिल्ला चिल्ला के रोती हुई प्लीज कम बैक कम बैक कहने लगी अब कभी नहीं झगड़ूंगी
.
तभी बाथरूम से निकल के उसके कंधे पर किसी ने हाथ रख के पूछा क्या हुआ? .
वो पलट के देखी तो उसके पति थे वो रोती हुई उसके सीने से लग गई फिर सारी बात बताई।
.
तब पति ने बताया की आज सुबह उसका पर्स चोरी हो गया था।
फिर दोस्त की दुकान से ये गिफ्ट वगैरह उधार लिए।
.
.
---------------------------------------------
---------
*दोस्तो जिन्दगी में किसी की अहमियत तब पता चलती है जब वो नहीँ होता
हम लोग अपने दोस्तोरिश्तेदारो से नोक-झोंक करते है लड़ते झगड़ते भी हैं
पर जिन्दगी की करवटे कभी कभी भूल सुधार का मौका नहीं देती
.
हँसी खुशी में प्यार सेजिन्दगी बिताइये और अपनी नाराजगी को अपनो से
ज्यादा देर तक मत रखिये ।
.
.
विशेष अनुरोध-------> से पंसद आये तो शेयर करें..
.
धन्यवाद


Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Friday, January 29, 2016

550 डाकुओं का सरदार पंचम सिंह बन गया ‘संत’, कभी किए थे 125 कत्ल

550 डाकुओं का सरदार पंचम सिंह बन गया ‘संत’, कभी किए थे 125 कत्ल

मप्र. खूंखार डाकू, चंबल के बीहड़ों का राजा, 550 डाकुओं का सरदार और लगभग 125 कत्लों के आरोप में भारत सरकार द्वारा दो करोड़ रुपए का इनामी डाकू पंचम सिंह आज का राजयोगी बन चुका है। अब लोगों के मन को परिवर्तित करने में अपना जीवन व्यतीत कर रहा है।



कभी चंबल के बीहड़ों में बंदूक की नोक पर दहशत का पर्याय रहा डाकू सरदार पंचम सिंह राजयोगी बनने के बाद देशभर में अध्यात्म की अलख जगा रहा है। पंचम ने अध्यात्म और आत्मविश्वास के बल पर जिंदगी बदलने के गुर सिखाए।

550 डाकुओं ने किया था समर्पण
चंबल के बीहड़ों में दहशत के रूप में कुख्यात पंचमसिंह जमीनदारों के सताने पर परिवार का बदला लेने के लिए डाकू बने। पंचायत चुनाव के दौरान एक पक्ष का समर्थन करने पर विरोधी गुट के लोगों ने इतना बेरहमी से पीटा कि लंबे समय तक अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। इलाज के बाद जब गांव लौटा तो ग्रामीणों पर उत्पीडऩ शुरू हो चुका था। विरोधी गुट हावी था। हर किसी का जीना दुश्वार था। फिर क्या था कूद पड़े चंबल के बीहड़ों में 12 डाकुओं के साथ।

धीरे-धीरे यह कुनबा बढ़कर 550 पहुंच गया। बदले की भावना से छह लोगों की सरेआम हत्या कर दी गई। करीब 14 साल तक बीहड़ों में दहशत का पर्याय बना रहा। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और लोकनायक जयप्रकाश नारायण की प्रेरणा से आत्म समर्पण किया। तब 550 डाकुओं ने एक साथ बंदूक छोड़ दी थी।

फिर अध्यात्म से बदलीं राहें…
समर्पण करने के बाद जब पंचम जेल में सजा काट रहे थे, तब प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की मुख्य संचालिका दादी प्रकाश जेल आईं थीं। उन्हें इंदिरा गांधी ने चुनौती दी थी कि डाकुओं का मन बदल कर दिखाएं। दादीजी ने प्रेरित किया तो मन बदल गया। पंचम सिंह 90 साल के हैं और आज भी वे राजयोगी बनकर जी रहे हैं। देखें पंचम सिंह की PHOTO, इसमें बांयी जब डाकू थे तब की तस्वीर और दांयी अब राजयोगी की।





Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

कोलेस्ट्रॉल खराब कोलेस्ट्रॉल कम घनत्व लेपोप्रोटीन, या एलडीएल, बुरा कोलेस्ट्रॉल अच्छा कोलेस्ट्रॉल - उच्च घनत्व लेपोप्रोटीन, या एचडीएल, कोलेस्ट्रॉल अच्छी के रूप में जाना जाता है.

कोलेस्ट्रॉल

खराब कोलेस्ट्रॉल

कम घनत्व लेपोप्रोटीन, या एलडीएल, बुरा कोलेस्ट्रॉल 

अच्छा कोलेस्ट्रॉल -
उच्च घनत्व लेपोप्रोटीन, या एचडीएल, कोलेस्ट्रॉल अच्छी के रूप में जाना जाता है.

कोलेस्ट्रॉल) एक sterol (एक संयोजन स्टेरॉयड और शराब. कोलेस्ट्रॉल एक सभी ऊतकों की कोशिका झिल्ली में पाया लिपिड है, और यह सभी जानवरों के रक्त प्लाज्मा में ले जाया जाता है. क्योंकि कोलेस्ट्रॉल सभी eukaryotes द्वारा संश्लेषित है, कोलेस्ट्रॉल की मात्रा में भी पौधों और कवक की झिल्ली में पाया जाता है पता लगा. नाम से स्रोत ग्रीक chole-(पित्त) और (ठोस) स्टीरियो, और रासायनिक एक शराब लिए प्रत्यय राजभाषा के रूप में शोधकर्ताओं ने सबसे पहले gallstones में ठोस रूप में कोलेस्ट्रॉल की पहचान की. हालांकि, यह 1815 में ही  रसायनज्ञ यूजीन Chevreul यौगिक "cholesterine" नाम दिया है


कोलेस्ट्रॉल संश्लेषण

कोलेस्ट्रॉल अधिकांश के शरीर से है संश्लेषित और कुछ मूल है आहार. कोलेस्ट्रॉल उदाहरण के लिए है और अधिक प्रचुर मात्रा में ऊतकों में है, जो या तो synthesize अधिक या अधिक, प्रचुर मात्रा में घनी पैक झिल्ली जिगर , रीढ़ की हड्डी और मस्तिष्क. यह कोशिका झिल्लियों की संरचना और स्टेरॉयड हार्मोन का संश्लेषण के रूप में कई जैव रासायनिक प्रक्रियाओं, में एक केंद्रीय भूमिका निभाता है. कोलेस्ट्रॉल रक्त में अघुलनशील है, लेकिन प्रोटीन घुलनशील जाया में पानी की मुख्य रूप से बाहरी बना प्रणाली संचार करने के लिए बाध्य एक के एक है जो कणों गोलाकार किस्मों के लेपोप्रोटीन,.

एलडीएल और एचडीएल

पानी में घुलनशील प्रोटीन मुख्य प्रकार के इन, कम घनत्व लेपोप्रोटीन (एलडीएल) और उच्च घनत्व लेपोप्रोटीन (एचडीएल) जिगर ले कोलेस्ट्रॉल से और.
परिकल्पना के अनुसार, असामान्य रूप से उच्च कोलेस्ट्रॉल) के स्तर (hypercholesterolemia और एलडीएल और एचडीएल असामान्य अनुपात) atherosclerosis के साथ लिपिड जुड़े रहे हैं (धमनियों विकास में atheroma हृदय रोग को बढ़ावा देकर. इस रोग की प्रक्रिया myocardial (दिल का दौरा) रोधगलन, स्ट्रोक और परिधीय संवहनी रोग होता है. कोलेस्ट्रॉल के रूप में उच्च एलडीएल प्रक्रिया इस योगदान के लिए, यह "कोलेस्ट्रॉल कहा जाता है" बुरा है, जबकि ") कोलेस्ट्रॉल का उच्च स्तर एचडीएल (अच्छा संरक्षण की डिग्री के एक प्रदान करते हैं. संतुलन उपचार कोलेस्ट्रॉल उच्च किया जा सकता है कभी कभी निवारण के साथ व्यायाम, एक स्वस्थ आहार, और.

खराब कोलेस्ट्रॉल

कम घनत्व लेपोप्रोटीन, या एलडीएल, कोलेस्ट्रॉल बुरा के रूप में जाना जाता है.

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशनएसोसिएशन के अनुसार अमेरिकन हार्ट: जब बहुत ज्यादा एलडीएल (खराब कोलेस्ट्रॉल) रक्त circulates , यह मस्तिष्क में सकता है और हृदय की धमनियों कि फ़ीड धीरे के निर्माण में भीतरी दीवारों. अन्य पदार्थों के साथ, यह पट्टिका, एक मोटी, कड़ी जमा कि धमनियों संकीर्ण और उन्हें कम लचीला कर सकते हैं फार्म कर सकते हैं. इस हालत atherosclerosis के रूप में जाना जाता है. एक थक्का रूपों और ब्लॉकों यदि एक संकुचित धमनी, दिल का दौरा या स्ट्रोक यदि आप उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार शुरू नहीं हो सकता है.


अच्छा कोलेस्ट्रॉल

उच्च घनत्व लेपोप्रोटीन, या एचडीएल, कोलेस्ट्रॉल अच्छी के रूप में जाना जाता है.



एसोसिएशन के अनुसार अमेरिकन हार्ट: के बारे में एक कोलेस्ट्रॉल रक्त चौथे के तीसरे एक) एचडीएल (है द्वारा किए गए उच्च घनत्व लेपोप्रोटीन. एचडीएल कोलेस्ट्रॉल कोलेस्ट्रॉल में अच्छी के रूप में जाना जाता है, क्योंकि स्तरों के एचडीएल कोलेस्ट्रॉल उच्च हमले लग दिल के खिलाफ की रक्षा के लिए. की एचडीएल का स्तर कम (40 से कम डेली मिलीग्राम /) ने भी रोग के खतरे को बढ़ा दिल. चिकित्सा विशेषज्ञों को लगता है कि एचडीएल कोलेस्ट्रॉल को धमनियों से दूर है और जिगर, जहां यह शरीर से पारित कर दिया है वापस करने के लिए ले जाता है. कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि एचडीएल धमनी पट्टिका से कोलेस्ट्रॉल की अधिक मात्रा को हटा, अपने buildup धीमा.


उच्च कोलेस्ट्रॉल

के बारे में दो तीन वयस्कों में एक कोलेस्ट्रॉल स्तर की सिफारिश की (उच्च कोलेस्ट्रॉल) की तुलना में अधिक है. कोलेस्ट्रॉल होने उच्च) को प्रभावित करता है अपने दिल और रक्त वाहिकाओं और (सीवीडी रोग हृदय बढ़ जाती है अपने जोखिम का विकास. उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर वसा जमा (सजीले टुकड़े के रूप में जाना जाता है) का कारण बनता है आपके रक्त वाहिकाओं के अंदर का निर्माण.

कुछ लोगों को और अधिक कोलेस्ट्रॉल की तुलना में आनुवंशिक कारणों के लिए आवश्यक, निर्माण चाहते हैं. यह परिवार में चलता है. अन्य मामलों में, उच्च कोलेस्ट्रॉल अधिक वजन जा रहा है और कर सकते हो प्रयोग एक छोटे से भोजन की वजह से भी भारी के प्रकार में गलत वसा भी, के साथ संयुक्त जला कैलोरी.

समय में, रक्त वाहिकाओं की आपूर्ति अपने दिल इतना संकीर्ण हो जाते हैं, हो सकता है कि वे हृदय की मांसपेशियों को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं प्रदान कर सकते हैं विशेष रूप से जब आप अपने आप को exerting हो. यह पैदा कर सकता है आपके सीने में दर्द (एनजाइना) महसूस करने के लिए. अगर एक फैटी पट्टिका से टूट जाता है, यह एक खून का थक्का जो आपके (हृदय रोग) दिल या दिमाग (स्ट्रोक) के लिए रक्त के प्रवाह को ब्लॉक कर सकते हैं कारण हो सकता है. यही कारण है कि यह बहुत महत्वपूर्ण है करने के लिए अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर को जानते हैं और उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार शुरू अगर जरूरत है


कोलेस्ट्रॉल जोखिम

वहाँ कई कारकों है कि उच्च कोलेस्ट्रॉल के लिए योगदान कर रहे हैं - कुछ चलाया हुआ है, जबकि दूसरों को नहीं कर रहे हैं. बेकाबू जोखिम वाले कारकों में शामिल हैं:
लिंग: के बाद रजोनिवृत्ति , एक औरत एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर ("बुरा" कोलेस्ट्रॉल) तक जाता है, के रूप में दिल की बीमारी के लिए जोखिम है उसे.
आयु: बढ़ जाती है के रूप में आप जोखिम अपने बड़े हो. 45 साल या पुराने और महिलाओं को 55 वर्ष की आयु या पुराने वृद्ध पुरुषों उच्च कोलेस्ट्रॉल का खतरा बढ़ जाता है.
परिवार के इतिहास: आपका खतरा बढ़ जाता है अगर एक पिता या भाई बहन या माँ थी प्रभावित पहले से हृदय रोग जल्दी (उम्र 55) या एक था) 65 प्रभावित जल्दी हृदय से पहले (रोग उम्र.
नियंत्रणीय जोखिम वाले कारकों में शामिल हैं:
आहार: संतृप्त वसा कोलेस्ट्रॉल का स्तर और कोलेस्ट्रॉल में एलडीएल तुम खाना खाने बढ़ा कुल और.
वजन: अधिक वजन होने के नाते नीचे कर सकते हैं अपने एलडीएल कोलेस्ट्रॉल स्तर ऊपर जाना है और अपने एचडीएल स्तर जाना. आप किसी भी विचार करना चाहिए वजन घटाने कार्यक्रम.
शारीरिक गतिविधि / व्यायाम: शारीरिक गतिविधि में वृद्धि का स्तर कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए मदद करता है उच्च. यह भी मदद करता है तुम वजन कम.
कम कोलेस्ट्रॉल

उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार का मुख्य लक्ष्य हमला है दिल से कम एक उच्च कोलेस्ट्रॉल होने रोग या दिल का स्तर काफी कम विकसित करने के अपने जोखिम. उच्च अपने जोखिम, कम अपने एलडीएल लक्ष्य होगा. डॉक्टरों अपने "लक्ष्य" जोखिम कारक आप दिल की बीमारी के लिए है की संख्या के आधार पर एलडीएल कम करने के लिए निर्धारित करने के द्वारा उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार शुरू होता है.

हृदय रोग के लिए अपने जोखिम को कम करने या इसे कम रखने के लिए, यह बहुत महत्वपूर्ण है:
नियंत्रण किसी अन्य जोखिम कारक आप हैं, जैसे कि हो सकता है उच्च रक्तचाप और धूम्रपान .
एक कम संतृप्त वसा, कम कोलेस्ट्रॉल भोजन योजना का पालन करें.
वांछनीय बनाए रखने के एक वजन .
नियमित रूप से शारीरिक गतिविधियों में भाग लेते हैं.
शुरू उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार चिकित्सा के रूप में अपने चिकित्सक द्वारा निर्देशित.
कोलेस्ट्रॉल आहार

चिकित्सकीय जीवन शैली में परिवर्तन (टीएलसी) कोलेस्ट्रॉल कम मदद उच्च है करने के लिए एक निर्धारित कर सकते हैं बातें तुम. उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार का मुख्य हिस्सा टीएलसी आहार है.

राष्ट्रीय हृदय, फेफड़े और रक्त संस्थानसंस्थान रक्त के अनुसार राष्ट्रीय हृदय, फेफड़े और:


टीएलसी आहार एक कम संतृप्त वसा, कम कोलेस्ट्रॉल भोजन योजना है कि कैलोरी की कम से कम 7 प्रतिशत के लिए कॉल से संतृप्त वसा और प्रति दिन आहार कोलेस्ट्रॉल के कम से कम 200 मिलीग्राम है. टीएलसी आहार केवल पर्याप्त एक वांछनीय वजन को बनाए रखने और वजन से बचने के लिए कैलोरी की सिफारिश की. यदि आपका एलडीएल पर्याप्त अपने संतृप्त वसा और कोलेस्ट्रॉल intakes, अपने आहार में घुलनशील फाइबर की मात्रा को कम करके नहीं उतारा है बढ़ाया जा सकता है. कुछ खाद्य उत्पादों है कि संयंत्र stanols या संयंत्र sterols होते हैं (उदाहरण के लिए, "कम उच्च कोलेस्ट्रॉल" मार्जरीन) भी टीएलसी आहार में शामिल किया जा सकता है के लिए उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार में अपने एलडीएल को कम शक्ति को बढ़ावा देने


संतृप्त वसा वसा रहित या 1 प्रतिशत डेयरी उत्पाद, दुबला मांस, मछली, skinless मुर्गीपालन, सारा अनाज खाद्य पदार्थ, और फलों और सब्जियों को शामिल में कम फूड्स. मुलायम (तरल या टब किस्मों) मार्जरीन है कि कम कर रहे हैं के लिए देखो संतृप्त वसा और उसमें कम या कोई ट्रांस वसा (आहार वसा है कि आपके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ा सकते हैं का एक प्रकार). जिगर और अन्य अंग मीट, अंडे, और पूर्ण वसा डेयरी उत्पादों जैसे उच्च कोलेस्ट्रॉल खाद्य पदार्थ सीमा. घुलनशील फाइबर का अच्छा स्रोत जई, कुछ फलों (जैसे संतरे और नाशपाती के रूप में) और सब्जियों (जैसे ब्रसेल्स स्प्राउट्स और गाजर के रूप में), और सूखे मटर और सेम शामिल हैं.


उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार

हम उपचार कोलेस्ट्रॉल उच्च अनुशंसा Hypercet के रूप में सबसे अच्छा:

रेटिंगस्वास्थ्य उत्पाद Hypercet कोलेस्ट्रॉल फॉर्मूला रेंज मदद कर सकते हैं समर्थन सामान्य कोलेस्ट्रॉल के स्तर के भीतर और स्वस्थ बनाए रखने के अपने. इस फार्मूले के साथ काम करने और अपने सामान्य शरीर के कार्यों की सहायता के लिए मदद इष्टतम स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए बनाया गया है.

Hypercet क्रोमियम शामिल कैल्शियम, मैग्नेशियम, बीटा 1, 3 डी glucans, और.

पैसा वापस गारंटी: आप मूल्य खरीद सकते हैं वापसी किसी भी अप्रयुक्त की वापसी के लिए एक खरीद के भीतर) दिनों के अपने 90 नब्बे (कारण से किसी भी खरीदी और बंद मद.


कोलेस्ट्रॉल स्तर

भले ही आप इलाज शुरू उच्च कोलेस्ट्रॉल, आप परिवर्तन जीवन शैली करेंगे के साथ अपने इलाज जारी रखने की जरूरत है. उच्च कोलेस्ट्रॉल उपचार सबसे प्रभावी है जब एक कम कोलेस्ट्रॉल आहार और व्यायाम कार्यक्रम के साथ संयुक्त है. जब भी हम किसी भी शारीरिक गतिविधि, कुछ लोगों में यह बढ़ जाती है एचडीएल कोलेस्ट्रॉल स्तर है. इस एचडीएल हृदय रोग के कम जोखिम का संकेत है. शारीरिक गतिविधि भी नियंत्रण वजन, मधुमेह और उच्च रक्तचाप की मदद कर सकते हैं. एरोबिक शारीरिक गतिविधि अपने दिल और सांस लेने की दरों को उठाती है. नियमित तेज चलने जॉगिंग, तैराकी और भी हालत अपने दिल और फेफड़ों के रूप में मध्यम तीव्रता शारीरिक गतिविधि.







Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

कोलेस्‍ट्रॉल कम करने वाले कौन से आहार हैं ?

कोलेस्‍ट्रॉल कम करने वाले कौन से आहार हैं ? 
How to reduce Cholestrol, and convert Bad cholestrol (LDL) in Good Cholestrol (HDL)

मेरा कोलेस्ट्राल काफी बढ़ा हुआ है। इसे कम करने के लिए मुझे किस तरह का आहार लेना चाहिए?


कोलेस्ट्राल कम करने के लिए बादाम, अखरोट और पिस्ते में पाया जाने वाला फाइबर, ओमेगा-3 फैटी एसिड और विटामिंस बुरे कोलेस्ट्रॉल को घटाने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढाने में सहायक होते हैं। इनमें मौजूद फाइबर देर तक पेट भरे होने का एहसास दिलाता है। इससे व्यक्ति नुकसानदेह फैटयुक्त स्नैक्स के सेवन से बचा रहता है। प्रतिदिन इनके 5से 10 दाने खाएं। लहसुन में कई ऐसे एंजाइम्स पाए जाते हैं, जो एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार साबित होते हैं। वैज्ञानिकों द्वारा किए गए शोध के अनुसार लहसुन के नियमित सेवन से एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर 9 से 15 प्रतिशत तक घट सकता है। इसके अलावा यह हाई ब्लडप्रेशर को भी नियंत्रित करता है।प्रतिदिन लहसुन की दो कलियां छीलकर खाना सेहत के लिए फायदेमंद होता है।



Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Jessica Pardoe : Britain's Tallest Teens Girl Now Become Tallest Celebrity 6 feet 11 inch tall

Jessica Pardoe : Britain's Tallest Teens Girl Now Become Tallest Celebrity 6 feet 11 inch tall

Jessica Pardoe, 21, from Wrexham, North Wales who is 6ft 11in in bare feet touted as Britain's Tallest Teens Women,.




Jessica height may be inherited genes from his family. Father, mother, and siblings alsohave a height above the average British society. While Elisany not have ancestors orfamily superhigh. Elisany parents do not have enough money to find out the cause of the growth of abnormal height.
Beyond the advantages of having a tall body, Oxford University study showed a correlation between height and cancer. People who have more height, has the potential of contracting cancer.







Helen Porter, of the Tall Persons’ Club of Great Britain, said: “At 6ft 9in this lady is exceptionally tall. I have checked our records and ­currently our tallest ­female member is 6ft 8in.
“We certainly believe she must be the tallest teenage girl in Britain.”





Jessica weighed 8lb 10oz at birth and measured a long, but not unusual, 53cm from head to toe. But at 18 months she was much taller than other tots.

By the age of 11 Jessica was ­already 5ft 8in – 3in taller than the average British woman. “We think she has stopped growing now – she’s been the same height for 18 months,” says her mum Lisa.

If teenage girls are often hassles with high-heeled shoes worn in order to maximize the appearance, not so with Jessica Pardoe.





Because in the new age of 18 years, Jessica has a height of up to 6ft 9in or 205 centimeters, so that he no longer need to wear high heels.

Jessica's long legs that reach 38in or 98 centimeters and size 11 feet, often makes it rather difficult to get shoes or trousers according to size, so he had to order it specially.

“I adore my long legs but they cause problems buying clothes,” she says. “I can get away with wearing skirts and dresses as minis, but no high street ­trousers, jeans or shoes fit. I can get them online but they are much more expensive.” Jessica says

 “I’m single now but I’ve had a few boyfriends and go on dates,” she says.

Even so, Jessica admitted proud of her height.

"I'm proud to have a height like this. It makes me a lot of people talk about. But I do not take headaches if I looked different from teenagers in general. Many of the benefits I get, "says Jessica.

The advantage is one of them was when he was at music events, she was not covered with the heads of other spectators.

Jessica height that exceeds the average girl is due to his age factor genes from the father and mother. Her mother, Lisa, 41, is just over 6ft and her father, Andrew, 43, is 6ft 7in. Brother Niall, 17, is an inch taller than her at 6ft 10in, while stepbrothers Liam, eight, and Ethan, six, are 5ft and 4ft 8in.




Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Thursday, January 28, 2016

अचूक उपाय: कोलेस्ट्रोल रहेगा हमेशा कंट्रोल

अचूक उपाय: कोलेस्ट्रोल रहेगा हमेशा कंट्रोल

*******************
कहा जाता है की लहसुन अमृत फल था जिसको भगवान ने ऐसी गंध दे दी जिससे अमृत के बार में लोगो
को पता न चल सके ।
खैर जो भी हो , कहा जाता है की लहसुन को नियमित सेवन करने वाले 100 वर्षों तक जीवित रहते हैं , क्यूंकि शुगर और कोलेस्ट्रोल कंट्रोल में रहता है
और डाइयबिटीस और दिल की बीमारियां दूर रहती हैं
 ******************************

कोलेस्ट्रोल, एक ऐसी समस्या है जो अब आम बनती जा रही है। कोलेस्ट्रोल कम करने का अर्थ है हृदय रोग का सही उपचार। आईये, कोलेस्ट्रोल को कम करने के कुछ घरेलू नुस्खो पर एक नजर डालते है।
- कच्ची लहसुन रोज सुबह खाली पेट खाने से कोलेस्ट्रोल कम होता है।
- रोज 50 ग्राम कच्चा ग्वारपाठा खाली पेट खाने से खून में कोलेस्ट्रोल कम हो जाता है।
- अंकुरित दालें भी खानी आरंभ करें।
- सोयाबीन का तेल अवश्य प्रयोग करें यह भी उपचार है।
- लहसुन, प्याज, इसके रस उपयोगी हैं।
- नींबू, आंवला जैसे भी ठीक लगे, प्रतिदिन लें।
- शराब या कोई नशा मत करें, बचें।
- इसबगोल के बीजों का तेल आधा चम्मच दिन में दो बार।
- दूध पीते हैं तो उसमे जरा सी दालचीनी) डाल दो, कोलेस्ट्रोल कण्ट्रोल होगा।
- रात के समय धनिया के दो चम्मच एक गिलास पानी में भिगो दें। प्रात: हिलाकर पानी पी लें। धनिया भी चबाकर निगल जाएं।
- 30 पत्ते तुलसी के, उसका रस निकाल दिया, नहीं तो 30 पत्ते तुलसी के और 1 नींबू निचोड़ लिया। तुलसी के पत्तों का रस मिले ऐसे चबाते गए और नींबू का पानी (1गिलास) पीते गए।


********************************
एक प्रचलित कथा के अनुसार जब देवताओं और असुरों ने समुद्र मन्थन किया तो उसमें से अमृत भी निकला था। राहु नामक राक्षस ने  छल सेे अमृत का एक घूंट पी लिया। जब भगवान विष्णु को इस बात का पता चला तो वे क्रोधित हो उठे और उन्होंने तुरन्त राहु का सिर काट दिया। इससे अमृत का कुछ भाग पृथ्वी पर गिर गया। पृथ्वी पर गिरे अमृत के उस भाग से लहसुन पैदा हुआ। क्योंकि पृथ्वी पर गिरे ेहुए अमृत का पहले राक्षस द्वारा सेवन किया गया था, इसलिए ब्राह्मणों द्वारा इसके सेवन का निषेध कर दिया गया। राक्षस द्वारा सेवन किए गए अमृत से उत्पन्न होने के कारण ही यह दुर्गन्धयुक्त होता है।
एक अन्य कथा के अनुसार अनेकों वर्षों तक इन्द्र की कोई सन्तान नहीं थी। सन्तान प्राप्ति के उद्देश्य से इन्द्र ने अपनी पत्नी को अमृत पीने के लिए दिया। इन्द्र की पत्नी पूरा अमृत न पी सकी। अमृत को पचा सकने की क्षमता न होने के कारण उसने अमृत का कुछ अंश उल्टी करके गिरा दिया। वह सीधा पृथ्वी पर आ गिरा। पृथ्वी दुर्गन्धयुक्त है परन्तु अमृत सुगन्ध से भरपूर था। उल्टी किये जाने के कारण तथा पृथ्वी की दुर्गन्ध के कारण स्वर्ग लोक से पृथ्वी पर गिरे हुए अमृत से लहसुन पैदा हुआ जिसका असर अमृत के समान गुणकारी है परन्तु यह दुर्गन्धयुक्त अवश्य है। क्योंकि लहसुन का मूल बीज उल्टी के रूप में पृथ्वी पर आया था, इसी कारण ब्राह्मणों द्वारा सेवन किये जाने के लिए यह निषिद्ध हो गया।
लहसुन को अंग्रेजी में Garlic गुजराती में लसण, पंजाबी में थूम तथा संस्कृत में लशुन कहा जाता है। यघपि लहसुन के पत्तों का भी सब्जी में प्रयोग किया जाता है परन्तु मुख्य उपयोग इसकी जड़ का होता है। लहसुन की पत्तियां हरी, चपटी तथा सिकुड़ी हुई होती हैं। इसकी जड़ अनेक गिरियों से मिलकर बनती है। ये गिरियां एक पतली सी सफेद या गुलाबी झिल्ली से ढकी रहती है। लहसुन की खेती प्रायः अधिकांश गर्म जलवायु अथवा सम जलवायु (जहां न अधिक ठंड पड़ती हो और न ही अधिक गर्मी) वाले देशों में होती है। भारत में इसकी बुआई प्रायः सितम्बर या अक्टूबर माह में की जाती है। उस समय इसके लिए मौसम अधिक अनुकूल होता है क्योंकि तब न ठंड पड़ती है और न ही गर्मी होती है। बीज के रूप में लहसुन की गिरियों को जमीन में बोया जाता है और लगभग तीन—चार माह में ही इसकी फसल तैयार हो जाती है। भारत में कुछ स्थानों पर लहसुन की केवल एक ही मोटी गिरी होती है। स्वाद तथा गन्ध में वह सामान्य लहसुन के बराबर ही होती है।
लहसुन से अनेक प्रकार की दवाईयां बनती हैं। आयुर्वेद में इसका प्रयोग विभिन्न बीमारियों के इलाज में किया जाता है। इसमें प्रमुख हैं: जोड़ों में दर्द, गठिया, गर्दन व हड्डियों का दर्द तथा कमर दर्द आदि। लहसुन का प्रयोग करने से व्यक्ति की पाचन शक्ति बहुत अच्छी हो जाती है, भूख अधिक लगती है। यह रक्तशोधक भी है। इससे अन्य बीमारियों खासकर त्वचा संबंधी बीमारियों में उपयोगी है। विभिन्न बीमारियों के इलाज के लिए इसका मुख्य रूप से दो तरह से इस्तेमाल किया जाता है। रस निकालकर व पेस्ट बनाकर। खाने में लहसुन का स्वाद अच्छा नहीं होता और उसमें गन्ध भी काफी होती है, इसी कारण इसके रस अथवा पेस्ट का सीधा सेवन करना कुछ कठिन होता है। सीधा प्रयोग करने से अनेक लोगों का या तो जी मिचलाने लगता है अथवा उलटी हो जाती है या काफी घबराहट हो जाती है। अतः इसके स्वाद को ठीक करने के लिए इसमें सुविधानुसार कुछ शहद मिला लेना चाहिए। खाली पेट सेवन करने से इसका लाभ अधिक होता है। यदि खाली पेट इसका सेवन करने में कठिनाई हो तो इसे भोजन के उपरान्त भी लिया जा सकता है। इसका काढ़ा बनाकर अथवा इसे पीसकर गोलियां बनाकर भी इसका सेवन किया जा सकता है। इसे पीसकर दर्द वाले स्थान पर लगाने से दर्द कम ही जाता है
**********************************


Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें...http://7joke.blogspot.com

कोलेस्ट्रॉल कम करना है तो रोज लें ये 10 डाइट How To Reduce Cholesterol : Diet which reduces cholesterol level

कोलेस्ट्रॉल कम करना है तो रोज लें ये 10 डाइट

How To Reduce Cholesterol : Diet which reduces cholesterol level


आजकल के समय में कोई भी बैड-कोलेस्ट्रॉल नामक शब्द से अनजान नहीं है। बैड कोलेस्ट्रॉल का मतलब है एलडीएल यानि लो डेंसिटी लिपो प्रोटीन। ये व्यक्ति के दिल में पाया जाने वाला एक ऐसा चिपचिपा पदार्थ है, जिसकी अधिकता के कारण दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा रहता है।

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के मुताबिक, आजकल विश्वभर के लगभग सभी देशों में तकरीबन 3 युवाओं में से एक को एलडीएल कोलेस्ट्रॉल की समस्या हो रही है। अगर हम अपनी दिनचर्या में बदलाव करें और सही डाइट लें तो इस बीमारी से छुटकारा पाना मुश्किल नहीं है।


कोलेस्ट्रॉल कम करना है तो रोज लें ये 10 डाइट
1. ओट्स




सुबह के समय नाश्ते में ओट्स खाना स्वस्थ दिन की शानदार शुरुआत है। 6 हफ्ते तक सुबह नाश्ते में प्रतिदिन ओट्स का दलिया लेने से एलडीएल को 5.3% तक घटा सकते हैं।

********************************************************
2. रेड वाइन




जो लोग वाइन पीने का शौक रखते हैं, उनके लिए अच्छी खबर है। हफ्ते में 2 बार थोड़ी सी रेड ग्रेप वाइन पीना कोलेस्ट्रॉल को कम करने मे मदद करता है
*************************************************
3. साल्मन फिश



जो लोग मछली खाते हैं उनके लिए भी कोलेस्ट्रॉल को घटाना आसान है। दरअसल, हमारे शरीर को स्वस्थ फैटी एसिड और अमीनो एसिड की जरूरत होती है।

शरीर को एनर्जी और विटामिन-डी देने के अलावा साल्मन फिश में स्वस्थ फैटी एसिड और अमीनो एसिड भरपूर मात्रा में होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में उपयोगी हैं।
************************************************
4. ड्राई फ्रूट्स


अब आप हर रोज मुट्ठी भर सूखे मेवे बिना किसी चिंता के खा सकते हैं। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन की मानें तो सूखे मेवे खाना हमारी सेहत के लिए बहुत जरूरी है, क्योंकि इनमें प्रोटीन फाइबर और विटामिन-ई भरपूर मात्रा में होते हैं।

साथ ही मेवों में स्वस्थ फैटी एसिड भी पाया जाता है जो केमिकल्स में प्रोसेस नहीं होता है और कोलेस्ट्रॉल को कम करने में काफी असरदार है।
******************************************************
5. अंकुरित दालें



अंकुरित दालों को अगर दिल का दोस्त कहा जाए तो गलत नहीं होगा। अपने दिन के खाने में कम से कम आधा कप बीन्स जैसे राजमा, चने, मूंग, सोयाबीन और उड़द को आप सूप, सलाद या सब्जी किसी भी रूप में ले सकते हैं।

अंकुरित दालों का रोजाना सेवन बुरे कोलेस्ट्रॉल को घटाता है
***********************************
6. ग्रीन टी


ग्रीन टी में कॉफी की तुलना में काफी कम कैफीन पाई जाती है। साथ ही शरीर को चुस्त-दुरुस्त रखने और स्वस्थ रखने वाले एंटी-ऑक्सीडेंट भी ग्रीन-टी में ज्यादा होते हैं। 

रोजाना ग्रीन-टी पीने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिससे बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करना आसान हो जाता है




***************
7. डार्क चॉकलेट



डार्क चॉकलेट खाना भी कोलेस्ट्रॉल कम करने में उपयोगी है, क्योंकि इसमें पाए जाने वाले एंटी-ऑक्सीडेंट्स से रक्त नलिकाएं मजबूत बनती हैं। जिससे दिल का दौरा पड़ने की आशंका कम होती है


***************
8. हरी पत्तेदार सब्जियां



हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन भी कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है। क्योंकि हरी पत्तेदार सब्जियों में विटामिन ए, बी, सी के साथ आयरन और कैल्शियम भी पाया जाता है। 

ये सभी पोषक तत्व शरीर को सेहतमंद बनाने के साथ-साथ रक्तसंचार दुरुस्त करते हैं, जिससे दिल सुगमता से अपना काम करता है
************************
9. ऑलिव ऑयल


ऑलिव यानि जैतून के तेल में पका हुआ खाना कोलेस्ट्रॉल के मरीजों के लिए सबसे उपयुक्त रहता है क्योंकि इसमें बना खाना हल्का और सुपाच्य होता है और साथ ही उसमें मोनो अनसैचुरेटेड फैटी एसिड पर्याप्त मात्रा में होते हैं जो कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद करते हैं
****************************
10 लहसुन


लहसुन का नियमित सेवन रक्तचाप, रक्तसंचार और ब्लड शुगर स्तर को सामान्य रखने के अलावा बैड कोलेस्ट्रॉल को घटाने में भी उपयोगी है



***************************



मोटापा कम कीजिए

यदि आपका वजन बहुत ज्‍यादा है तो उस पर नियं‍त्रण कीजिए, खासकर अपने कमर की चर्बी को कम कीजिए। इसके लिये आपको स्‍पोर्ट, एरोबिक्‍स क्‍लास या जिम ज्‍वाइन कर सकते हैं। ऐसा करने से आपका गुड कोलेस्‍ट्रॉल का लेवल बढ़ेगा और खराब कोलेस्‍ट्रॉल घटेगा।ढेर सारा पालक खाइए। माना जाता है कि पालक के साग में 13 फ्लेवनॉइड तत्‍व पाये जाते हैं जिससे कैंसर, हार्ट की बीमारी और ऑस्टियोपोरोसिस से बचाव होता है। इसलिए अगर कोलेस्‍ट्रॉल बढ़ गया है तो रोजाना आधा कप पालक खाइए, इससे हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाता है।मछली में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है जो प्राकृतिक रूप से दिल की बीमारी, हाई कोलेस्‍ट्रॉल और स्‍ट्रोक से दूर रखता है। यह अच्‍छे कोलेस्‍ट्रॉल का लेवल बढ़ाता है और यदि आप मछली नहीं खाते हैं तो आप उसकी जगह पर अखरोठ, सोयाबीन और तिल के तेल का सेवन कर सकते हैं
****************************************************************
धूम्रपान छोडि़ये

स्‍मोकिंग से धमनियों की अंदर की परत नष्‍ट होने लगती है। सिगरेट में कार्सीनो‍जेन और काबर्न मोनो ऑक्‍साइड होता है जिससे खून में जल्‍दी कालेस्‍ट्रॉल का लेवल बढ़ जाता है। धूम्रपान करने से खराब कोलेस्‍ट्रॉल का लेवल बढ़ने लगता है तथा अच्‍छा कोलेस्‍ट्रॉल घटने लगता है। इसलिए स्‍मोकिंग की आदत को अलविदा कहिए। एल्‍कोहल कंट्रोल में पीजिये। पुरुषों के लिये शराब की सीमित मात्रा दिन में एक या दो गिलास तक होती है और महिलाओं के लिये दिन में शराब का केवल एक गिलास। यदि आप इससे ज्‍यादा पियेंगे तो शरीर में वसा जमने लगेगा और कोलेस्‍ट्रॉल बढे़गा। इसलिए शराब को ज्‍यादा पीने से बचिए


******************************
संतृप्‍त वसा कम करें

संतृप्त वसा को कम करें और ट्रांस फैट को छोडे़। इसके लिए आपको अंडे का पीला भाग, फ्राइड फूड, वसा वाला दूध और उससे बने उत्‍पाद और फैटी मीट आदि खाने से परहेज करना चाहिए। क्‍योंकि यह तेल आपके खराब कोलेस्‍ट्रॉल को बढ़ा सकते हैं। रोजाना केवल 20 ग्राम तक संतृप्त वसा खाने की सलाह दी जाती है।रेगुलर एक्‍सरसाइज करने की आदत डालिए। हफ्ते में 4 दिन तो जम कर व्‍यायाम करना ही चाहिये। एक्‍सरसाइज से कोलेस्‍ट्रॉल का लेवल कम हो जाता है और दिल की बीमारी पास नहीं आती। इसलिए नियमित रूप से कम से 40-60 मिनट तक व्‍यायाम कीजिए।


यदि आपके अंदर कोलेस्‍ट्रॉल की मात्रा बढ़ गई है तो चिकित्‍सक से संपर्क अवश्‍य कीजिए और उसके सलाह के अनुसार ही अपनी दिनचर्या बनाइए
***********************************************








































Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

20 #SmartCities का एलान: UP-बिहार-बंगाल से एक भी शहर नहीं, MP से तीन

20 #SmartCities का एलान: UP-बिहार-बंगाल से एक भी शहर नहीं, MP से तीन



नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने गुरुवार को पहली 20 स्मार्ट सिटीज का एलान कर दिया। केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू के मुताबिक, कॉम्पिटीशन के आधार पर इनका सिलेक्शन हुआ है। इस लिस्ट में यूपी, बिहार और प. बंगाल जैसे राज्यों से एक भी शहर नहीं है। जबकि एमपी से तीन शहर हैं। मोदी सरकार ने इन 20 सीटीज के लिए पिछले साल अगस्त में 97 शहरों को शॉर्ट लिस्ट किया था।





कैसे होगी प्रोजेक्ट फंडिंग और क्यों है स्मार्ट सिटीज पर फोकस...

- फर्स्ट फेज में 20 और अगले हर दो साल में 40-40 शहरों को स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के लिए सिलेक्ट किया जाएगा।
- मंत्री के मुताबिक, सिलेक्ट शहरों को पहले साल 200- 200 करोड रुपए और बाद में तीन साल तक 100-100 करोड़ दिए जाएंगे।
- अरबन डेवलपमेंट मिनिस्ट्री के कॉन्सेप्ट नोट के मुताबिक, देश में अभी शहरी आबादी 31 फीसदी है, लेकिन इसकी भारत के जीडीपी में हिस्सेदारी 60 पर्सेंट से ज्यादा है।
- एक अनुमान है कि अगले 15 साल में शहरी आबादी की जीडीपी में हिस्सेदारी 75 पर्सेंट होगी।
- इस वजह से 100 स्मार्ट सिटीज बनाने का टारगेट रखा गया है।
- इस प्रोजेक्ट के लिए 48000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। प्रोजेक्ट में केंद्र और स्टेट गवर्नमेंट की हिस्सेदारी रहेगी।
यूपी-बिहार-बंगाल खाली हाथ क्यों? और सरकार का क्या है तर्क...

- यूपी में इस साल इलेक्शन नहीं है। 2017 में इलेक्शन से पहले अगले साल सरकार को 40 और सिटीज का एलान करना है।
- जानकारों का कहना है कि बिहार में पिछले साल बीजेपी चुनाव हार चुकी है।
- पश्चिम बंगाल में इस साल इलेक्शन होना है लेकिन इसके बाद भी वहां से इस लिस्ट में कोई शहर नहीं है। पिछले साल जब 97 शहरों को शॉर्ट लिस्ट किया गया था तो उसमें बंगाल से 4 शहर थे।
- सरकार का कहना है कि सिलेक्शन 97 शहरों में कॉम्पिटीशन के आधार पर हुआ है।
- 1.52 करोड़ लोगों ने स्मॉर्ट सिटीज के सिलेक्शन प्रॉसेस में हिस्सा लिया।
ये 20 सिटीज, जिन्हें फर्स्ट फेज में बनाया जाएगा स्मार्ट....
1. भुवनेश्वर 2. पुणे 3. जयपुर 4. सूरत 5. कोच्चि 6. अहमदाबाद 7. जबलपुर 8. विशाखापट्टनम 9. सोलापुर 10. दावणगेरे 11. काकीनाड़ा 12. नई दिल्ली, 13 इंदौर, 14. कोयम्बटूर,15. बेलगाम, 16. उदयपुर, 17. गुवाहाटी, 18. लुधियाना 19. चेन्नई 20. भोपाल
क्या हैं स्मार्ट सिटी के बेसिक प्रिंसिपल?
सरकार ने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट को तीन बुनियादी प्लान पर तैयार किया है।
1. क्वालिटी ऑफ लाइफ
- स्मार्ट सिटी में रहने वाले हर शख्स को क्वालिटी लाइफ मिले। यानी किफायती घर हो, हर तरह का इन्फ्रास्ट्रक्चर हो।
- पानी और बिजली चौबीसों घंटे मिले। एजुकेशन के ऑप्शंस हों। सिक्युरिटी हो।
- एंटरटेनमेंट और स्पोर्ट्स के सोर्स हों।
- आसपास के इलाकों से अच्छी और तेज कनेक्टिविटी हो। अच्छे स्कूल और हॉस्पिटल भी मौजूद हों।
2. इन्वेस्टमेंट
- स्मार्ट सिटी में वहां मौजूद ह्यूमन रिसोर्स और नेचुरल रिसोर्स के मुताबिक, पूरा इन्वेस्टमेंट भी आए।
- बड़ी कंपनियों को वहां अपनी इंडस्ट्री लगाने के लिए सुविधाएं और सहूलियत मिले। उन पर टैक्स का ज्यादा बोझ न हो।
3. रोजगार
- स्मार्ट सिटी में इन्वेस्टमेंट ऐसा आए जिससे वहां या आसपास रहने वाले लोगों को रोजगार के पूरे मौके मिलें।
- स्मार्ट सिटी के अंदर रहने वालों को अपनी आमदनी के लिए उस इलाके से ज्यादा दूर नहीं जाना पड़े।
जो सुविधाएं आजादी के बाद से अब तक आपको नहीं मिलीं, वे स्मार्ट सिटी में दिलाने के दावे
स्मार्ट सिटी में ट्रांसपोर्ट, रेजिडेंशियल, बिजली-पानी, हेल्थ और एजुकेशन की सुविधाएं देने के लिए कुछ मानक तय किए गए हैं।
1. ट्रांसपोर्ट
- स्मार्ट सिटी के अंदर एक स्थान से दूसरे स्थान जाने का ट्रैवल टाइम 45 मिनट से ज्यादा न हो।
- कम से कम 2 मीटर चौड़े फुटपाथ हों।
- रिहाइशी इलाकों से 800 मीटर की दूरी या 10 मिनट वॉक पर बस या मेट्रो की सुविधा हो।
2. रिहाइश
- 95 फीसदी रिहाइशी इलाके ऐसे हों जहां 400 मीटर से भी कम दूरी पर स्कूल, पार्क और रीक्रिएशन पार्क मौजूद हों।
- 20 फीसदी मकान आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लिए हों।
- कम से कम 30 फीसदी रिहाइशी और कमर्शियल इलाके बस या मेट्रो स्टेशन से 800 मीटर की दूरी के दायरे में ही हों।
3. बिजली और पानी
- स्मार्ट सिटी में 24*7 पानी और बिजली सप्लाई हो।
- 100 फीसदी घरों में बिजली कनेक्शन हों। सारे कनेक्शनों में मीटर लगा हो।
- लागत में नुकसान न हो। यानी कोई बिजली-पानी चोरी न कर पाए।
- प्रति व्यक्ति कम से कम 135 लीटर पानी दिया जाए।
4. वाईफाई कनेक्टिविटी
- 100 फीसदी घरों तक वाईफाई कनेक्टिविटी हो।
- 100 एमबीपीसी की स्पीड पर वाईफाई पर मिले।
5. हेल्थ
- स्मार्ट सिटी में इमरजेंसी रिस्पॉन्स टाइम 30 मिनट से ज्यादा न हो।
- हर 15 हजार लोगों पर एक डिस्पेंसरी हो।
- एक लाख की आबादी पर 30 बिस्तरों वाला छोटा अस्पताल, 80 बिस्तरों वाला मीडियम अस्पताल और 200 बिस्तरों वाला बड़ा अस्पताल हो।
- हर 50 हजार लोगों पर एक डायग्नोस्टिक सेंटर हो।
5. एजुकेशन
- 15 फीसदी इलाका एजुकेशनल इंस्टीट्यूट्स के लिए हो।
- हर 2500 लाेगों पर एक प्री-प्राइमरी, हर 5000 लोगों पर एक प्राइमरी, हर 7500 लोगों पर एक सीनियर सेकंडरी और हर एक लाख की आबादी पर पहली से 12वीं क्लास तक का एक इंटिग्रेटेड स्कूल हो।
- सवा लाख की आबादी पर एक कॉलेज हो।
- 10 लाख की आबादी पर एक यूनिवर्सिटी, एक इंजीनियरिंग कॉलेज, एक मेडिकल कॉलेज, एक प्रोफेशनल कॉलेज और एक पैरामेडिकल कॉलेज हाे।

News Sabhaar : bhaskar.com (28.01.2016)





Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Tuesday, January 26, 2016

कट्टरता के लेवल

कट्टरता के लेवल

इस्लामिक देश ( जैसे सऊदी अरेबिया इत्यादि ) बेहद कट्टर >> हिंदुस्तान (मॉडरेट - मध्यम कठोर  ) >> अमेरिका ( कम कठोर , मसलन अमेरिका में लोग देश के झंडे के कपडे बनवाएं या जो कुछ करें , काफी आजादी है )




Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

Monday, January 25, 2016

कितने रोहित वेमुला?

कितने रोहित वेमुला?

अगर आपने रोहित वेमुला की आत्महत्या की ख़बर को भी उतनी ही तवज्जो दी जितनी आप किसी मंत्री की भैंस के भागने या किसी राजनेता की नाक पर मक्खी बैठने की ख़बर को देते हैं जो मुझे आपसे कोई बात नहीं करनी. हो सकता है आपको यह भी न पता हो कि रोहित वेमुला था कौन. 
***************************
See Also ->>
क्या कहती हैं जांच रिपोर्ट >>> https://www.youtube.com/watch?v=NJicdSM2xP4

********************************



हैदराबाद यूनिवर्सिटी में पीएचडी की दूसरे साल साल की पढ़ाई करता था कुल छब्बीस साल का यह नौजवान जिसने घनघोर निराशा और डिप्रेशन के चलते बीते रविवार की शाम को अपनी जान दे दी. पिछले साल अगस्त में फिल्म 'मुज़फ्फ़रनगर बाक़ी है' के प्रदर्शन पर एबीवीपी के आक्रमण की निंदा करते हुए कुछ छात्र संगठनों ने, जिनमें कुछ दलितबहुल संगठन भी शामिल थे, इस घटना का सैद्धांतिक प्रतिकार किया था. 

इसी महीने हैदराबाद यूनिवर्सिटी ने पांच दलित छात्रों को छात्रावास खाली करने का आदेश दिया था. उनसे कहा गया कि वे अपने रहने का इंतजाम कर लें. इस आदेश में उन्हें निकाले जाने के जो कारण गिनाये गए थे उनमें एक यह था कि इन छात्रों ने याकूब मेमन की फांसी का विरोध किया था. इन छात्रों में रोहित भी था.

बहरहाल पिछले पंद्रह दिन से इस एकतरफ़ा कार्रवाई का  विरोध कर रहे इन पांच बच्चों को बीते कई दिनों से तम्बुओं में रातें बिताने को विवश होना पड़ रहा था - उन्हें तमाम तरह से अपमानित और प्रताड़ित किये जाने का सिलसिला तो काफ़ी पहले से शुरू हो चुका था. उन्हें "जातिवादी, अतिवादी और राष्ट्रविरोधी" जैसे विशेषणों से संबोधित किया गया. यह एक सोशल बॉयकॉट था जिससे भीतर तक आहत रोहित वेमुला को ऐसा कदम उठाने पर विवश कर दिया. कबाड़ी दिलीप मंडल ने अपनी फेसबुक वॉल पर प्रतिक्रिया देते हुए रोहित को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा - "हम शायद पर्याप्त नाराज नहीं हैं. हमें आदत सी पड़ गई है. हम उत्पीड़न के लिए नॉर्मलाइज़ हो चुके हैं. चलता है.... क्यों? रोहित को आदत नहीं पड़ी थी. वह हम लोगों की तरह नॉर्मल नहीं था."

रोहित ने अपनी मौत से पहले जो चिठ्ठी छोड़ी है वह केवल अपने माता-पिता, दोस्तों, पुलिस, वाइस-चांसलर या मीडिया के लिए नहीं है. वह हर उस भारतीय को लिखी गयी है जिसके भीतर थोड़ा बहुत इंसान अब भी बचा हुआ है और जो धरती, चाँद-तारे, विज्ञान और प्रेम जैसी ठोस वास्तविकताओं पर भरोसा करता है. तकरीबन कविता जैसी रूमानी भाषा में लिखी गयी इस चिठ्ठी को आपने बार-बार पढ़ना चाहिए ताकि आने वाले काले दिनों की आहट आपके मन में लगातार गूंजती रहे. इस चिठ्ठी को आपने औरों को भी पढ़वाना चाहिए ताकि आप यकीन कर सकें कि अभी आप उत्पीड़न के लिए नॉर्मलाइज़ नहीं हुए हैं. 

अलविदा रोहित! 
----
रोहित वेमुला

रोहित के अंतिम पत्र का यह मोटा-मोटा अनुवाद बीबीसीडॉटकॉम से साभार लिया गया है- 

गुड मॉर्निंग,

आप जब ये पत्र पढ़ रहे होंगे तब मैं नहीं होऊंगा. मुझ पर नाराज़ मत होना. मैं जानता हूं कि आप में से कई लोगों को मेरी परवाह थी,आप लोग मुझसे प्यार करते थे और आपने मेरा बहुत ख़्याल भी रखा. मुझे किसी से कोई शिकायत नहीं है. मुझे हमेशा से ख़ुद से ही समस्या रही है. मैं अपनी आत्मा और अपनी देह के बीच की खाई को बढ़ता हुआ महसूस करता रहा हूं. मैं एक दानव बन गया हूं. मैं हमेशा एक लेखक बनना चाहता था. विज्ञान पर लिखने वालाकार्ल सगान की तरह. लेकिन अंत में मैं सिर्फ़ ये पत्र लिख पा रहा हूं.

मुझे विज्ञान से प्यार थासितारों सेप्रकृति सेलेकिन मैंने लोगों से प्यार किया और ये नहीं जान पाया कि वो कब के प्रकृति को तलाक़ दे चुके हैं. हमारी भावनाएं दोयम दर्जे की हो गई हैं. हमारा प्रेम बनावटी है. हमारी मान्यताएं झूठी हैं. हमारी मौलिकता वैध है बस कृत्रिम कला के ज़रिए. यह बेहद कठिन हो गया है कि हम प्रेम करें और दुखी न हों.

एक आदमी की क़ीमत उसकी तात्कालिक पहचान और नज़दीकी संभावना तक सीमित कर दी गई है. एक वोट तक. आदमी एक आंकड़ा बन कर रह गया है. एक वस्तु मात्र. कभी भी एक आदमी को उसके दिमाग़ से नहीं आंका गया. एक ऐसी चीज़ जो स्टारडस्ट से बनी थी. हर क्षेत्र मेंअध्ययन मेंगलियों मेंराजनीति मेंमरने में और जीने में.

मैं पहली बार इस तरह का पत्र लिख रहा हूं. पहली बार मैं आख़िरी पत्र लिख रहा हूं. मुझे माफ़ करना अगर इसका कोई मतलब न निकले तो.

हो सकता है कि मैं ग़लत हूं अब तक दुनिया को समझने में. प्रेमदर्दजीवन और मृत्यु को समझने में. ऐसी कोई हड़बड़ी भी नहीं थी. लेकिन मैं हमेशा जल्दी में था. बेचैन था एक जीवन शुरू करने के लिए. इस पूरे समय में मेरे जैसे लोगों के लिए जीवन अभिशाप ही रहा. मेरा जन्म एक भयंकर दुर्घटना थी. मैं अपने बचपन के अकेलेपन से कभी उबर नहीं पाया. बचपन में मुझे किसी का प्यार नहीं मिला.

इस क्षण मैं आहत नहीं हूं. मैं दुखी नहीं हूं. मैं बस ख़ाली हूं. मुझे अपनी भी चिंता नहीं है. ये दयनीय है और यही कारण है कि मैं ऐसा कर रहा हूं.

लोग मुझे कायर क़रार देंगे. स्वार्थी भीमूर्ख भी. जब मैं चला जाऊंगा. मुझे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता लोग मुझे क्या कहेंगे. मैं मरने के बाद की कहानियों भूत प्रेत में यक़ीन नहीं करता. अगर किसी चीज़ पर मेरा यक़ीन है तो वो ये कि मैं सितारों तक यात्रा कर पाऊंगा और जान पाऊंगा कि दूसरी दुनिया कैसी है.

आप जो मेरा पत्र पढ़ रहे हैंअगर कुछ कर सकते हैं तो मुझे अपनी सात महीने की फ़ेलोशिप मिलनी बाक़ी है. एक लाख 75 हज़ार रुपए. कृपया ये सुनिश्चित कर दें कि ये पैसा मेरे परिवार को मिल जाए. मुझे रामजी को चालीस हज़ार रुपए देने थे. उन्होंने कभी पैसे वापस नहीं मांगे. लेकिन प्लीज़ फ़ेलोशिप के पैसे से रामजी को पैसे दे दें.

मैं चाहूंगा कि मेरी शवयात्रा शांति से और चुपचाप हो. लोग ऐसा व्यवहार करें कि मैं आया था और चला गया. मेरे लिए आंसू न बहाए जाएं. आप जान जाएं कि मैं मर कर ख़ुश हूं जीने से अधिक.

'छाया से सितारों तक'

उमा अन्नाये काम आपके कमरे में करने के लिए माफ़ी चाहता हूं.

अंबेडकर स्टूडेंट्स एसोसिएशन परिवारआप सब को निराश करने के लिए माफ़ी. आप सबने मुझे बहुत प्यार किया. सबको भविष्य के लिए शुभकामना.

आख़िरी बार

जय भीम

मैं औपचारिकताएं लिखना भूल गया. ख़ुद को मारने के मेरे इस कृत्य के लिए कोई ज़िम्मेदार नहीं है.

किसी ने मुझे ऐसा करने के लिए भड़काया नहींन तो अपने कृत्य से और न ही अपने शब्दों से.

ये मेरा फ़ैसला है और मैं इसके लिए ज़िम्मेदार हूं.


मेरे जाने के बाद मेरे दोस्तों और दुश्मनों को परेशान न किया जाए.

Sabhaar : http://kabaadkhaana.blogspot.in/2016/01/blog-post_75.html





Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र कोे 67वे गणतंत्र की पूर्वसंध्या पर शुभकामनाये एवं बधाई

विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र कोे 67वे गणतंत्र की पूर्वसंध्या पर शुभकामनाये एवं बधाई








Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

मुस्लिम गर्ल्स स्कूल में तिरंगा फहराने, आधुनिक शिक्षा का विरोध

मुस्लिम गर्ल्स स्कूल में तिरंगा फहराने, आधुनिक शिक्षा का विरोध

तनाव तब पैदा हो गया जब हमने हिंदी और अंग्रेजी पढ़ाने का फैसला किया। हम इस स्कूल को केंद्र सरकार की मदरसों के आधुनिकीकरण की योजना के आधार पर चलाएंगे। लेकिन, कुछ बदमाश समस्या खड़ा कर रहे हैं



ग्रेटर नोएडा के दनकौर में तब तनाव का माहौल बन गया जब कुछ कट्टरपंथियों ने सोमवार को एक मुस्लिम गर्ल्स स्कूल में तिरंगा फहराने और आधुनिक शिक्षा का विरोध किया। बताया जाता है कि यह स्कूल नवंबर 2011 से उत्तर प्रदेश सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण विभाग से रेकग्नाइज्ड और रजिस्टर्ड है।


दरअसल मुस्लिम गर्ल्स हाई स्कूल साल 2011 से यूपी सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अंतर्गत आता है। सोमवार को कुछ लोग गणतंत्र दिवस के मौके पर स्कूल में झंडा फहराने की तैयारी के लिए रॉड और दूसरे जरूरी सामान के साथ स्कूल पहुंचे थे कि तभी कुछ कट्टरपंथी लोगों ने उन्हें झंडा फहराने से मना कर दिया और गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी।मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद हो गया है।
धमकी देने वाले कुछ लोगों को जब पुलिस ने थाने में बुलाया तो उन्होंने पुलिस के सामने ही स्कूल में हिंदी और अंग्रेजी पढ़ाए जाने का विरोध शुरू कर दिया। जिसके बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने विरोध करने वाले सभी लोगों को चेतावनी दी कि अगर आज उन्होंने स्कूल में झंडा फहराने का विरोध किया तो उन्हें इसका गंभीर परिणाम भुगतना होगा।



सोमवार को स्कूल प्रशासन से जुड़े कुछ लोग स्कूल में तिरंगा फहराने के लिए लोहे का डंडा लगाने वहां पहुंचे, लेकिन बदमाशों ने मजदूर को हड़काकर स्कूल से बाहर कर दिया। मामले की सूचना मिलने के बाद पुलिस प्रशासन ऐक्शन में आ गया। पुलिस ने दनकौर के कुछ स्थानीय लोगों को थाने बुलाया। ये लोग पुलिस के सामने भी इस बात पर भड़क गए कि स्कूल में दूसरी भाषाओं की शिक्षा दी जाती है। हालांकि, पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए लोगों को अल्टिमेटम दिया कि अगर उन्होंने रिपब्लिक डे पर स्कूल में तिरंगा फहराने से रोका तो उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।

दनकौर पुलिस स्टेशन ऑफिसर चक्रपाणि शर्मा ने कहा कि किसी को भी कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी। घटना के बारे में उन्होंने कहा, 'कुछ अनपढ़ लोग झंडोत्तोलन समारोह का विरोध कर रहे थे। हमने अपने सीनियर अधिकारियों को घटना की सूचना दे दी है और मंगलवार को किसी भी अनहोनी को टालने के लिए भारी पुलिस बल की मौजूदगी में स्कूल में झंडा फहराया जाएगा। ये कट्टरपंथी लोग हिंदी और अंग्रेजी में पढ़ाई पर भी सवाल उठा रहे थे। रिपब्लिक डे के बाद हम उन्हें फिर से बुलाकर स्कूल में आधुनिक शिक्षा सुनिश्चित करेंगे।'

हजरत सैयद भुरेशाह कमिटी के सेक्रटरी आदिर खान जयसवाल ने कहा, 'सैयद भुरेशाह मुस्लिम गर्ल स्कूल वक्फ कमिटी की जमीन पर चल रहा है। 2011 से यहां 5वीं क्लास तक के बच्चों की पढ़ाई हो रही है। शुरुआत में सबकुछ ठीकठाक चल रहा था, लेकिन तनाव तब पैदा हो गया जब हमने हिंदी और अंग्रेजी पढ़ाने का फैसला किया। हम इस स्कूल को केंद्र सरकार की मदरसों के आधुनिकीकरण की योजना के आधार पर चलाएंगे। लेकिन, कुछ बदमाश समस्या खड़ा कर रहे हैं।'

उन्होंने कहा, 'अब हालात बद से बदतर हो गए हैं। शिक्षकों के स्कूल आने का विरोध किया गया और ऐसा माहौल बनाया गया कि स्कूल में पढ़ाई नहीं हो। हमने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री तथा राज्यपाल के साथ-साथ जीबी नगर के डीएम, एसएसपी और स्थानीय दनकौर थाने से शिकायत की है। इसके बावजूद कुछ कट्टरपंथी हमपर आधुनिक शिक्षा की पढ़ाई वापस लेने का दबाव बना रहे हैं।'

आदिर खान ने कहा, 'ये बदमाश गणतंत्र दिवस पर झंडा फहराने का भी विरोध कर रहे हैं। उन्होंने झंडा फहराए जाने पर हमें गंभीर नतीजे भुगतने की धमकी दी है। सोमवार को हमारे स्टाफ झंडोत्तोलन समारोह का इंतजाम करने के लिए स्कूल गए, लेकिन बदमाशों ने उनके साथ बदतमीजी की और स्कूल से निकल जाने को कहा।' उन्होंने बताया कि सोमवार को जीबी नगर के डीएम ऑफिस और एसएसपी से फिर से शिकायत की गई ताकि झंडोत्तोलन समारोह सुनिश्चित की जा सके। साथ ही किसी भी अनहोनी को टालने के लिए पुलिस बल मुहैया कराए जाने की भी मांग की गई।








Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com

आईएएस के साक्षात्कार में एक सदस्य ने अभ्यर्थी को पूछा । 'यदि गर्दन नीची कर तुम्हे खाने को कहा जाए । हर रोज़ अलग-अलग महिलाये बिना बोले तुम्हे परोसे

आईएएस के साक्षात्कार में एक सदस्य ने अभ्यर्थी को पूछा । 'यदि गर्दन नीची कर तुम्हे खाने को कहा जाए । हर रोज़ अलग-अलग महिलाये बिना बोले तुम्हे परोसे । ये पता लगाना हो कि किस दिन तुम्हारी माँ ने परोसा तो क्या आधार है ?'
'जिस दिन आधी रोटी मांगने पर भी पूरी रोटी थाली में आ जाए तो में समझ लूंगा की आज माँ ने ही परोसा है ।'
अभ्यर्थी चयनित हुआ



Visit for Amazing ,Must Read Stories, Information, Funny Jokes - http://7joke.blogspot.com 7Joke
संसार की अद्भुत बातों , अच्छी कहानियों प्रेरक प्रसंगों व् मजेदार जोक्स के लिए क्लिक करें... http://7joke.blogspot.com